कई विशेषताओं वाला मिनी स्प्रिंकलर रेन पोर्ट

Share

9 दिसंबर 2021, इंदौर । कई विशेषताओं वाला मिनी स्प्रिंकलर रेन पोर्ट जैन इरिगेशन सिस्टम्स लि के सभी उत्पाद मज़बूत ,टिकाऊ और उपयोगी साबित हुए हैं। इसी कड़ी में जैन इरिगेशन का मिनी स्प्रिंकलर (रेन पोर्ट ) भी ऐसा ही एक उत्पाद है जो सिंचाई में सहयोग कर सब तरह की बचत करवाता है।

5022  एसडी -यू  स्प्रिंकलर की विशेषताएं बताते हुए जैन इरिगेशन सिस्टम्स लि के रीजनल मैनेजर (मार्केटिंग ) श्री आनंद जैन, भोपाल ने कृषक जगत को बताया कि इस स्प्रिंकलर में पानी का प्रवाह 310-800  लीटर /घंटा होता है। इसका व्यास 18 मी से 23 मी तक होता है। दोहरे नोज़ल वाले इस स्प्रिंकलर का अनुशंसित दबाव डेढ़ किलो ग्राम/ वर्ग सेमी से 4  किग्रा /वर्ग सेमी तक होता है, जिसे प्रवाह नियामक विकल्प के रूप में  3 से 5 किग्रा /वर्ग सेमी तक किया जा सकता है। इसका इनलेट कनेक्शन: 1/2 इंच  थ्रेडेड होता है। इस  स्प्रिंकलर को एलपीडी (रिसाव रोकथाम उपकरण )के साथ जोड़ा जा सकता है। यह कम बूंद प्रभाव और कम दर में बेहतर सिंचाई सुनिश्चित करता है,जो फसल के सही अंकुरण और विकास के लिए जरुरी है। निकट दूरी वाली फसलों जैसे आलू, पत्तेदार सब्जियां, कपास, तिलहन, दालें, अनाज और चारा फसलों के लिए यह उपयुक्त है। श्री जैन ने कहा कि सिंचाई में इस मिनी स्प्रिंकलर का प्रयोग करने से फसल उत्पादन में पानी, श्रम और खाद आदि की तो बचत होती ही है,कीट प्रकोप भी कम होता है। इससे फसल की गुणवत्ता और रंग में सुधार होने के साथ ही उत्पादन की संभावना डेढ़ से दो गुना बढ़ जाती है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.