लोकप्रिय हो रही फसल काटने की बहुउपयोगी मशीन

Share

01 अक्टूबर 2020, इंदौर। लोकप्रिय हो रही फसल काटने की बहुउपयोगी मशीन कृषि कार्यों में लगने वाले समय और श्रम को कम करने के लिए कृषि यांत्रिकी में नए प्रयोग किए जा रहे हैं.ऐसा ही एक प्रयोग गुजरात के राजकोट जिले के श्री नीलेश भाई पटेल ने किया है.उन्होंने एक ऐसी बहुउपयोगी मशीन बनाई है , जो मूंगफली और चना फसल को न केवल खेत से काटती है , बल्कि स्वचालित तरीके से साफ़ कर बीज और भूसे को अलग भी करती है .साढ़े सात लाख रुपए कीमत वाली इस मशीन की आपूर्ति, निर्माता फ़िलहाल गुजरात में ही कर पा रहे हैं, जबकि म.प्र. के किसानों ने भी इसमें रूचि दिखाई है।

लोकप्रिय हो रही फसल काटने की बहुउपयोगी मशीन
लोकप्रिय हो रही फसल काटने की बहुउपयोगी मशीन

महत्वपूर्ण खबर : एनएफएल ने आईटीआई, राघोगढ़ के साथ एमओयू किया

इस आधुनिक मशीन के निर्माता श्री नीलेश भाई पटेल ने कृषक जगत को बताया कि गत दो वर्षों में 4 -5 मशीने बनाकर गुजरात में बेच चुके हैं .छोटा व्यवसाय होने से फिलहाल गुजरात में ही आपूर्ति कर पा रहे हैं.इस मशीन की कीमत साढ़े सात लाख रुपए है .इस बहु उपयोगी मशीन से खेत से मूंगफली/चना फसल की कटाई आसानी से होने के साथ ही बीज और चारे को भी अलग करती है .एक घंटे में चार लीटर पेट्रोल लगता है .खरीदार को किराए से चलाने से आय भी हो जाती है .

गुजरात में इस मशीन के दो उपयोगकर्ताओं ने कृषक जगत से अपने अनुभव साझा किए .जलाराम फ़ार्म हलवद जिला मोरवी के श्री दीपक पटेल ने कहा कि नीलेश भाई मेरे मित्र हैं ,उनसे यह मशीन खरीदी है .इस मशीन से एक घंटे में डेढ़ -दो बीघा की मूंगफली और चना की फसल काटी जा सकती है .निजी उपयोग के अलावा किराए पर भी चलाता हूँ .1200 रुपए घंटा मिल जाता है .ग्राम केसूद बामनासा जिला जूनागढ़ के किसान श्री हितेश करंगिया ने कहा कि इस मशीन में फसल कटाई के साथ ही बीज और चारा अलग रखने की व्यवस्था है और इसे सीधे ट्रॉली में भी खाली किया जा सकता है .एक घंटे में एक -डेढ़ बीघे की कटाई हो जाती है .कुछ बातें वातावरण और चालक की योग्यता पर भी निर्भर है .मशीन का किराया एक एकड़ के लिए 1500 रु. लिया जाता है .लोकप्रियता की ओर अग्रसर इस मशीन की मांग गुजरात में लगातार बढ़ रही है, जिसकी आपूर्ति के लिए निर्माता सतत प्रयत्नशील है.

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.