मधुमक्खी पालन से आय बढ़ाएं

Share

अशोकनगर। कृषि विज्ञान केन्द्र , अशोकनगर में मधुमक्खी पालन हेतु दो दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया, जिसमें किसानों को मधुमक्खी के बॉक्सों, मोम प्लेट, मधुमक्खी का भोजन, परागण एवं मधुमक्खी के बॉक्सों की शिफ्ंिटग शहद निकालने सम्बन्धी विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी गई । प्रशिक्षण के आयोजक श्री हेमंत त्रिवेदी ने मधुमक्खी पालन की सैद्धांतिक जानकारी प्रदान की साथ ही शिवपुरी कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक पुष्पेन्द्र सिंह ने परंपरागत फसलों के मधुमक्खी की भूमिका विषय की जानकारी दी तथा डॉ. स्वाति तोमर मधुमक्खी पालन की छोटे-छोटे बिन्दुओं की व्यवाहरिक जानकारी कृषकों को प्रदान की। केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. बी.एस. गुप्ता ने कृषकों से बताया कि कम से कम पांच बॉक्स से मधुमक्खी पालन का कार्य प्रारम्भ करें साथ ही उत्पादन कार्यक्रम अगस्त-सितम्बर माह से प्रारंभ करने पर परिणाम उत्साहवर्धक रहते है साथ ही वर्ष भर फूल (नेक्टर एवं परागकण) होना चाहिए, जिससे मधुमक्खियों के काम आवें। प्रशिक्षण के दौरान प्रगतिशील कृषक अभय खेर, नरेन्द्र रघुवंशी, कुणाल रघुवंशी एवं सुरजीत सिंह एवं गोविंद सिंह एवं अन्य कृषक उपस्थित रहे। केन्द्र के वैज्ञानिक श्री सुदीप तोमर, श्री अजय कुमार पनिका ने भी जानकारी प्रदान की। कार्यक्रम का शुभारम्भ योग दिवस के अवसर पर योगाभ्यास के साथ शुरू हुआ।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.