अशोक लेलैंड का ‘दोस्त+’ लांच

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

इन्दौर। हिंदुजा समूह की प्रमुख कंपनी और भारत में सबसे बड़े व्यावसायिक वाहन निर्माताओं में एक अशोक लेलैंड ने ‘दोस्त+’ को लांच किया। ‘दोस्त+’ एक नया हल्का व्यावसायिक वाहन (एलसीवी) है। ‘दोस्त+’ 2 टन से 3.5 टन सकल वाहन वजन (जीवीडब्ल्यू) वर्ग में छोटे व्यावसायिक वाहन (एसीसीवी) के ऊपरी वर्ग की जरूरतों को पूरा करेगा। इसकी भार ढोने की क्षमता 1.475 टन है। ‘दोस्त+’ पावर स्टीयरिंग वर्जन की कीमत 5,62,287 रुपये से शुरू होती है। यह कीमतें एक्स-शोरूम इन्दौर की है।
इस अवसर पर अशोक लेलैंड लि. के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री विनोद के दासारी ने कहा कि हमारे उत्पाद परिवार में दोस्त के आने से, एलसीवी कारोबार हमारे लिए एक महत्वपूर्ण बदलाव लाने को तैयार है। हम आपकी जीत, हमारी जीत के अपने वादे को लगातार पूरा करते आए हैं। दोस्त ब्रांड हमारे इस वादे का आदर्श उदाहरण है और बढ़ती बाजार हिस्सेदारी के साथ अपने वर्ग में इसने अपनी पहचान पहले से ही बना रखी है।
अशोक लेलैंड के प्रेसीडेंट- लाइट कॉमर्शियल व्हीकल्स श्री नितिन सेठ ने लांच के मौके पर कहा कि ‘दोस्त+’ के लांच के साथ हम अपने एलसीवी मुहिम पर खरे उतरे हैं। हमारी मुहिम है कि भारतीय ग्राहकों को वैसे समकालीन उत्पाद दें, जो उपयोगकर्ता को बेहतरीन अनुभव प्रदान करे, साथ में ईंधन खपत में भी किफायत बरते। इसके अलावा ‘दोस्त+’ पर हमने वारंटी दोगुनी कर दी है जो कि इस उत्पाद में हमारे भरोसे को परिलक्षित करता है।
‘दोस्त+’ का इस्तेमाल कई कामों में होगा और यह उन शहरी ग्राहकों को आकर्षित करेगा, जिन्हें शहर की गलियां रोज नापनी होती हैं। साथ ही यह उपनगरीय और ग्रामीण ग्राहकों के लिए भी अच्छा है, जिन्हें कच्चे और सख्त मैदानी हिस्सों से गुजरना पड़ता है।
‘दोस्त+’ तीन संस्करणों में उपलब्ध है। इसमें सबसे महंगे संस्करण में एयर कंडिशनिंग, पावर स्टीरिंग, ड्युअलकलर बीज- ग्रे ट्रिम और एर्गेनॉमिक सीटों की सुविधा है। ग्राहकों को चुनने के लिए तीन रंग- सफेद, आयरिश क्रीम और ग्री- बीज दिये गये हैं। ड्रायवर को शानदार आराम प्रदान करने के लिए इसमें केबल द्वारा परिचालित गियर शिफ्टर है।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × one =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।