धान उपार्जन का कार्य गंभीरता से करें : कलेक्टर

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

जबलपुर। धान उपार्जन का कार्य गंभीरता के साथ करें। इस आशय के निर्देश जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित जबलपुर द्वारा धान खरीदी के सम्बन्ध में आयोजित कार्यशाला में कलेक्टर श्री महेशचन्द्र चौधरी द्वारा दिए गए। इस अवसर पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक जबलपुर के अध्यक्ष श्री धर्मेश पटेल, महाप्रबंधक श्री पी.के. परिहार, विपणन संघ, एनआईसी की अधिकारी सुश्री मधु मिश्रा, जबलपुर एवं कटनी के अधिकारी, सम्बन्धित विभागों के अधिकारी, शाखा एवं समिति प्रबंधक आदि उपस्थित थे।
कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि धान उपार्जन का कार्य बहुत ही महत्वपूर्ण है। इसे पूरी गंभीरता के साथ किया जाए। उन्होंने कहा कि धान उपार्जन सही तरीके से करें, उत्तम गुणवत्ता का धान खरीदें एवं बारदाना उपलब्ध कराएं। समितियों को उपलब्ध कराया गया बारदाना यदि कम पाया जाता है, तो यह माना जाएगा कि बारदाना की चोरी की गई है। धान उपार्जन में किसानों से राशि नहीं ली जाए। यदि शिकायत मिलती है तो सम्बन्धित के प्रति कठोर कार्यवाही की जाएगी एवं एफआईआर दर्ज कराकर जेल भेजा जाएगा। कलेक्टर ने कहा कि धान उपार्जन शासन के नियमानुसार की जाए। परिवहन एवं भण्डारण ठीक तरह से किया जाए। किसानों को उपार्जन केन्द्रों पर अच्छी सुविधाएं दी जाएं।
समिति में आने वाले किसानों से अच्छा व्यवहार किया जाए। समितियों को भराई एवं तुलाई की राशि नियमानुसार शासन से उपलब्ध करायी जाएगी। समिति बकाया राशि जमा कराएं। धान उपार्जन के लिए जो केन्द्र बनाए गए हैं वह सही तरीके से धान उपार्जन करें। किसी तरह की गड़बड़ी नहीं करें। अपराध करने से जीवन बर्बाद हो जाता है। जो समितियां धान उपार्जन नहीं करना चाहतीं वह लिखित में दे सकती हैं। उनका केन्द्र बंद कर दिया जाएगा। समितियों में बैनर लगाएं जिसमें धान खरीदी का विवरण हो। धान खरीदी का प्रशिक्षण प्राप्त करें। एक-एक कार्य समझ लें जिससे धान खरीदी में परेशानी नहीं आए। बिचौलियों से सावधान रहें। भ्रष्टाचार बिल्कुल नहीं किया जाए। शासन के निर्देशानुसार धान खरीदी का कार्य किया जाए।
जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री धर्मेश पटेल द्वारा धान खरीदी के सम्बन्ध में जानकारी दी गई। श्री पटेल द्वारा धान खरीदी में आने वाली कठिनाईयों को दूर करने की बात कही गई।
जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के महाप्रबंधक श्री परिहार द्वारा धान उपार्जन के सम्बन्ध में शासन के निर्देशों की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि धान खरीदी का कार्य 15 नवम्बर 2016 से 15 जनवरी 2017 तक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की दर 1470 रूपए निर्धारित की गई है।
कार्यशाला में उपस्थित सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों द्वारा भी धान खरीदी के सम्बन्ध में आवश्यक जानकारी दी गई।
000000000

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty + six =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।