हिसार कृषि विश्वविद्यालय द्वारा पोषण अनुसंधान पर कार्यशाला

Share

30 अगस्त 2022, चण्डीगढ़ हिसार कृषि विश्वविद्यालय द्वारा पोषण अनुसंधान पर कार्यशाला – चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार के खाद्य एवं पोषण विभाग द्वारा भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आई.सी.एम.आर.), नई दिल्ली के सहायोग से पोषण अनुसंधान करने के लिए युवा शोधकर्ताओं की क्षमता निर्माण विषय पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

विश्वविद्यालय के प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस कार्यशाला में हिसार के तीनों विश्वविद्यालयों नामत: चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, गुरू जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय और लाला लाजपतराय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के लगभग 50 स्नातकोत्तर छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।    

प्रवक्ता ने बताया कि विश्वविद्यालय का खाद्य एवं पोषण विभाग सामुदायिक पोषण के क्षेत्र में बहुत उत्कृष्ट कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा विभाग को आहार विज्ञान (डायटेटिक्स) के क्षेत्र में सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स शुरू करने के लिए प्रयास करने चाहिए। यह नई शिक्षा नीति की जरूरत भी है और समाज के लिए फायदेमंद भी। उन्होंने हरियाणा में एनीमिया की समस्या पर भी चर्चा की और इसका समाधान खोजे जाने पर बल दिया। उन्होंने प्रयोगशाला अनुसंधान और सामुदायिक पोषण शिक्षा दोनों को सुदृढ़ करने का आह्वान किया और प्रतिभागियों को खाद्य एवं पोषण में गहन अनुसंधान करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि इस तरह की कार्यशालाएं एवं प्रशिक्षण शोध के उत्थान में काफी मददगार साबित होते हैं। आई.सी.एम.आर. के वैज्ञानिकों ने विश्वविद्यालय के साथ आगे भी इसी तरह का सहयोग करने का आश्वासन दिया।

महत्वपूर्ण खबर: नर्मदापुरम संभाग में कई जगह बारिश, मोहखेड़ में 74.4 मिमी वर्षा

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.