आत्मनिर्भर म.प्र. बनाने अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें : राज्यपाल

Share

सोलर पावर प्लांट स्थापित करने नई कुसुम योजना होगी प्रारंभ : मुख्यमंत्री

8  नवंबर 2021, भोपाल । आत्मनिर्भर म.प्र. बनाने अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें : राज्यपाल – मध्यप्रदेश का 66वाँ स्थापना दिवस आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की थीम पर मध्यप्रदेश उत्सव के रूप में मनाया गया। राज्य-स्तरीय कार्यक्रम भोपाल के लाल परेड ग्राउण्ड में राष्ट्रगान और मंत्रोच्चारण के साथ शुरू हुआ। राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर उपस्थित रहीं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने नागरिकों को आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के निर्माण का संकल्प दिलवाया।

  • युवाओं को स्व-रोजगार से जोडऩे मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना की घोषणा
  • स्थानीय निकायों को सौर ऊर्जा उत्पादन पर मिलेगा सहयोग
  • आवासहीनों को दिये जायेंगे नि:शुल्क भू-खण्ड
  • किसानों को प्राप्त हो रहा है शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें। सभी प्रदेशवासी एकजुट होकर आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लिए प्रयास करें। स्वदेशी उत्पादों का स्वयं उपयोग करें एवं दूसरों को भी प्रेरित करें। राज्यपाल श्री पटेल ने मध्यप्रदेश में 7 करोड़ से अधिक वैक्सीनेशन होने पर सरकार को बधाई दी।

आत्मनिर्भर म.प्र. के लिए सरकार के साथ समाज का साथ आवश्यक

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के नागरिकों को स्थापना दिवस और दीपावली के पावन पर्व की बधाई दी। उन्होंने कहा कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लिए सरकार के साथ समाज खड़ा हो, तभी हमारा विकास का संकल्प पूरा होगा। विकास में आम जनता का सहयोग और साथ चाहिए। प्रत्येक नागरिक कोई एक कार्य हाथ में ले। पर्यावरण सुरक्षा में भी सहयोग दें। हर व्यक्ति विशेष अवसरों पर पौधा लगाये।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सामान्य वर्ग और पिछड़ा वर्ग के कल्याण के लिए आयोग बनाये गये हैं। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण उपलब्ध हो रहा है। छोटे और सीमांत किसानों को वर्ष में 10 हजार रूपए की राशि दी जा रही है। किसानों के उत्पादन के निर्यात की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना से जिस तरह सरकार और समाज ने संयुक्त रूप से मुकाबला किया उसी तरह अब आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए सभी को मिलकर प्रयासों की पराकाष्ठा करना होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक कार्य सरकार नहीं कर सकती, आम लोगों को सहभागी बनना होगा। तभी हम समाज के प्रत्येक वर्ग की जिंदगी बदल पाएंगे।

कुसुम योजना

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा के नवीन कुसुम योजना प्रारंभ होगी, जिसमें 2 मेगावाट के पावर प्लांट स्थापित करने के लिए स्थानीय निकायों को सहयोग दिया जाएगा। उनके द्वारा उत्पादित विद्युत को खरीदने की व्यवस्था शासन द्वारा होगी।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना प्रारंभ की जाएगी, जो युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में काफी मददगार होगी। योजना में युवाओं को उद्यम स्थापित करने के लिये एक से 50 लाख रूपये तक का ऋण दिया जायेगा, जिसकी गारंटी सरकार देगी। इसमें 3 प्रतिशत ब्याज अनुदान भी दिया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पुरानी योजनाओं को नया स्वरूप दिया जाएगा। लघु, मध्यम और सूक्ष्म उद्योगों के क्षेत्र में तेजी से कार्य होगा। संबल योजना को पूरी ताकत से साथ लागू किया जाएगा।

आवासहीनों को भू-खण्ड

श्री चौहान ने कहा एक परिवार में सदस्यों की संख्या बढ़ जाने से समस्या होती है। इसके लिए मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना में परिवारों के सदस्यों को मकान के लिए भूखंड देकर मालिक बनाने का कार्य किया जाएगा।

नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए सभी का सहयोग सरकार को प्राप्त होगा। कोरोना के बाद उत्पन्न चुनौतियों का मुकाबला कर मध्यप्रदेश को उन्नत बनाने में सहयोग देंगे।

 

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.