हथनीकुंड डैम हरियाणा का महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट

Share

19 अगस्त 2022, चंडीगढ़: हथनीकुंड डैम हरियाणा का महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट – हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हथनीकुंड डैम की प्राथमिक रिपोर्ट को केंद्रीय जल आयोग के समक्ष भेजने की मंजूरी दी। जल आयोग के अतिरिक्त यह रिपोर्ट पांच राज्यों में भी भेजी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हथनीकुंड डैम हरियाणा सरकार का एक महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट के निर्माण में यह रिपोर्ट बेहद अहम है।
बैठक के दौरान मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि पानी धरती का एक अमूल्य तत्व है। हर वर्ष बारिश के दिनों में पानी बर्बाद होता है और यमुना नदी के क्षेत्र में बाढ़ आती है। इसी के चलते हरियाणा सरकार ने हथनीकुंड में डैम बनाने का निर्णय लिया है। इस डैम का कैचमेंट एरिया लगभग 11170 स्कवेयर किलोमीटर होगा। डैम हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के क्षेत्र में बनाया जाना है। इसके बनने से हरियाणा को न केवल बिजली मिलेगी बल्कि पानी की आपूर्ति भी होगी। हथिनीकुंड डैम की वार्षिक बिजली उत्पादन क्षमता 763 एमयू होगी।  

डैम बनने से क्षेत्र में होगी ग्राउंड वाटर रिचार्जिंग

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि हथनीकुंड डैम के बनने से आसपास के क्षेत्र में ग्राउंड वाटर रिचार्जिंग होगी और इससे किसानों को लाभ मिलेगा। इसके अतिरिक्त यमुना नदी के क्षेत्र में हर वर्ष बारिश के दिनों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो जाती है। इससे किसानों की फसलें खराब हो जाती है। डैम के बनने से बाढ़ की समस्या से निजात मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस डैम के बनने का फायदा रेणुका, किसाऊ और लखवार तीनों डैम को मिलेगा। इन तीनों डैम का बैलेंसिंग रिजरवायर फंक्शन हथनीकुंड डैम को ही बनाया जाएगा।

डैम के नजदीक बनेगा पर्यटन केंद्र

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि डैम बिजली और पानी की आपूर्ति तो करेगा ही लेकिन इसे पर्यटन का केंद्र भी बनाया जाएगा। कोई भी  डैम  पर्यटन की दृष्टि से भी महत्वपूर्ण होता है। यह  डैम  जिस क्षेत्र में बनने वाला है, वह बेहद हराभरा और प्रकृति के करीब है। इसे पर्यटकों की दृष्टि से भी विकसित किया जाएगा।

इस बैठक के दौरान मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डीएस ढेसी, मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल, हरियाणा सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के एसीएस श्री अपूर्व कुमार सिंह व अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

महत्वपूर्ण खबर: दलहन उत्पादन बढ़ाने फसलों की उन्नत, पोषक किस्में विकसित करने पर जोर

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.