राज्य कृषि समाचार (State News)

किसान एप्प पर रबी फसल की गिरदावरी 20 जनवरी तक

Share

22 दिसम्बर 2022, खरगोन: किसान एप्प पर रबी फसल की गिरदावरी 20 जनवरी तक – वर्ष 2022-23 में रबी मौसम की फसल गिरदावरी की जानकारी जियों फेंस के माध्यम से की जानी है। किसान गिरदावरी के लिए गुगल प्ले स्टोर से किसान एप्प में पंजीकृत करें। किसान एप्प के माध्यम से किसान स्वयं खेत में उपस्थित होकर फसल की फोटो खींचकर एप्प पर अपलोड कर सकते हैं। एमपी किसान एप के माध्यम से किसान फसल स्वघोषणा की जानकारी दर्ज कर सकते हैं । गिरदावरी कार्य के लिए प्रति ग्राम से अधिक से अधिक खातेदारों का एमपी किसान एप में पंजीयन 20 जनवरी तक सुनिश्चित किया जाए। संबंधित पटवारी सतत् रूप से एमपी किसान एप में पंजीयन एवं फसल स्व-घोषणा की जानकारी दर्ज करने के लिए किसानों को प्रशिक्षित करेंगे। एमपी किसान एप के माध्यम से किसान द्वारा खेत में उपस्थित होकर फसल की जानकारी जियो फैस तकनीक अनुसार प्री-रजिस्ट्रेशन के लिए दर्ज की जा सकती है। पटवारियों द्वारा भी समानांतर रूप से फसल गिरदावरी 20 जनवरी तक पूर्ण की जाएगी।  

31 दिसंबर तक तहसीलदार करेंगे आपतियों का निराकरण – मौसम रबी के लिए सेटेलाईट इमेज/एआई आधारित फसल गिरदावरी की जानकारी एमपीएसईडीसी द्वारा 22 जनवरी तक उपलब्ध कराई जायेगी। सैटेलाईट इमेज/एआई आधारित फसल गिरदावरी की जानकारी सारा/एमपी किसान एप पर अवलोकन के लिए उपलब्ध होगी। सैटेलाईट इमेज/एआई से प्राप्त संभावित फसल एवं किसान व पटवारी द्वारा दर्ज फसल की जानकारी समान होने पर सर्वर पर सीधे अद्यतन होगी। वहीं विसंगति होने पर पटवारी को सारा एप में निराकरण के लिए उपलब्ध होगी। विसंगति पूर्ण जानकारी का निराकरण जियो फेंस तकनीक से स्थल का फोटो खींचकर 26 जनवरी तक पटवारी द्वारा किया जाएगा। किसानों को गिरदावरी की जानकारी एमपी किसान एप में अवलोकन के लिए उपलब्ध होगी। जिससे असहमत होने पर आपत्ति की जानकारी खेत पर उपस्थित होकर फसल का फोटो खींचकर 28 जनवरी तक सतत् रूप से दर्ज की जा सकती है। तहसीलदार द्वारा प्राप्त आपतियों का निराकरण 31 दिसंबर तक सारा पोर्टल के माध्यम से किया जाएगा। 31 जनवरी को गिरदावरी का डाटा लॉक कर दिया जाएगा जिसके बाद संशोधन मान्य नहीं होगा।  

महत्वपूर्ण खबर: कपास मंडी रेट (19 दिसम्बर 2022 के अनुसार)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *