कृषि मंत्रालय ने किए 5 एमओयू ,किसानों के लिए बढ़ेगी सुविधाएं

Share

17 सितम्बर 2021, नई दिल्ली ।  कृषि मंत्रालय ने किए 5 एमओयू ,किसानों के लिए बढ़ेगी सुविधाएं – किसानों के हित के लिए केंद्र सरकार लगातार सुविधाएं बढ़ा रही है। इसी क्रम में पायलेट प्रोजेक्ट संचालन के लिए केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने गत दिनों 5 कंपनियों -सिस्को,63 आइडिया इंफोलैब्स प्रा लि (निन्जाकार्ट), जियो प्लेटफॉर्म्स लि (रिलायंस )एनसीडीईएक्स ई- मार्केट्स लि (एनईएमएल ) और आईटीसी लि कंपनियों के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

मुख्य अतिथि  केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि कृषि क्षेत्र के डिजिटलाइजेशन से किसानों के साथ ही देश को बहुत लाभ होगा। कृषि क्षेत्र में नई  और उभरती डिजिटल तकनीकों को लागू करने के प्रावधान गत वर्ष से शामिल किया गया है। कृषि पर मौजूदा राष्ट्रीय ई -गवर्नेस परियोजना (एनईजीपीए )में संशोधन किया गया है।और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस , ब्लाक चेन,रिमोट सेंसिंग,जीआईएस ,ड्रोन और रोबोट जैसी नई तकनीकों को तैनात करने से राज्य सरकारों को सहायता करने वाले प्रावधानों को शामिल किया गया है। 10 राज्यों में पायलट परियोजनों को पहले ही मंजूरी दी जा चुकी है। आने वाले महीनों में इस दायरे को विस्तार दिया जाएगा।

श्री तोमर ने कहा कि कृषि क्षेत्र में टेक्नालॉजी के उपयोग का ही नतीजा है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि बिना किसी मध्यस्थ के किसानों के बैंक खातों में सीधे जमा कराई जा रही है। अभी तक 11.37 करोड़ किसानों को 1.57 करोड़ रुपए दिए जा चुके हैं। कृषि क्षेत्र में अच्छा काम करने के लिए निजी क्षेत्र भी तत्पर है , चुनौतियों का समाधान करने में समर्थता मिलेगी। रोज़गार के साधन बढ़ सकेंगे। किसानों को उनकी उपज का वाज़िब दाम मिलेगा और इससे कृषि क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन आएगा। प्रधानमंत्री की निरंतर यह कोशिश है कि नीतियां किसानों की आय बढ़ाने पर केंद्रित हो। बेहतर फसल प्रबंधन हो, नई पीढ़ी खेती की ओर आकर्षित हो। अधोसंरचना का लाभ निचले स्तर के किसानों को मिले। इस अवसर पर कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री सुश्री शोभा करंदलाजे व श्री कैलाश चौधरी , सचिव श्री संजय अग्रवाल ,अपर सचिव श्री विवेक अग्रवाल , राज्यों के अधिकारी , सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के विशेषज्ञ मौजूद थे।

इन्होंने किए एमओयू पर दस्तखत :  सिस्को के एमडी श्री हरीश कृष्णन,सुश्री अनिता कुमार व श्री दिनेश पाल सिंह, निन्जाकार्ट के को–फाउंडर व सीईओ श्री थिरु कुमारन नागार्जुन , जियो प्लेटफॉर्म्स के प्रेसीडेंटव रेग्युलेटरी  एन्ड कार्पोरेट अफेयर्स के हेड श्री शंकर अडवाल व वाइस प्रेसीडेंट सुश्री विशाखा सईगल ,एनसीडीईएक्स -ई मार्केट्स के एमडी और सीईओ श्री मृगांक परांजपे और आईटीसी के डिविजनल चीफ एक्जीक्यूटिव श्री रजनीकांत राय प्रेजेंटेशन दिया और एमओयू साइन किए। ये एमओयू साल भर के लिए आधार रूप में किसान डेटा बेस का उपयोग कर पायलट हेतु किया गया है। इससे किसानों को इनके प्लेटफार्म और टेक्नालॉजी का लाभ मिलेगा।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.