पूर्व की गलतियों से सीखना जरुरी

Share

ग्वालियर। मप्र के मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री आर. परशुराम ने रासिविवि के कुलपति प्रो. एस.के. राव के साथ मिलकर विशेषज्ञों से चंबल बीहड़ सुधार परियोजना पर व्यापक चर्चा की। कुलपति प्रो. राव ने विश्वविद्यालय में चल रही विविध कृषि अनुसंधान परियोजनाओं के बारे में बताया कि चंबल में बीहड़ सुधार परियोजना पांच साल पूर्व शुरु हो गई थी। इस परियोजना में वि.वि. द्वारा बीहड़ क्षेत्र में उद्यानिकी, कृषि वानिकी का विकास कर सुधार किया जा रहा है। श्री परशुराम ने बीहड़ सुधार परियोजना के क्रियान्वयन पर कहा कि पूर्व की असफलताओं से हमें सीखना होगा। हमें पता है कि बीहड़ में विकास करना है मगर विकास के प्रयासों में कुछ कमियां रही हैं। उन्होंने विशेषज्ञों से कहा कि हमें स्थानीय जरुरतों, चुनौतियों को ध्यान में रखकर छोटी छोटी योजनाएं बनानी होंगी। इन योजनाओं को तय समय में किसानों के सहयोग से पूरा करना होगा। अगर ऐसा किया गया तो बीहड़ सुधार व्यवस्थित रूप से हो सकेगा। उन्होंने विशेषज्ञों से बीहड़ के लिए उपयुक्त फलदार वृक्षों, कृषि वानिकी एवं उसके स्थानीय बाजार के बारे मेें भी जानकारी ली।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.