छिंदवाड़ा जिले में पीला सोना – सरसों का क्षेत्र तीन गुना बढ़ा

Share

6 जनवरी 2022, छिंदवाड़ा । छिंदवाड़ा जिले में पीला सोना – सरसों का क्षेत्र तीन गुना बढ़ा – छिंदवाड़ा जिले में दलहनी व तिलहनी फसलों को बढ़ावा दिए जाने के उद्देश्य से कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन के मार्गदर्शन में जिले में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन की तिलहन योजना के अंतर्गत कृषि विभाग, ऑचलिक कृषि अनुसंधान केन्द्र और कृषि विज्ञान केन्द्र के साथ समन्वय कर संयुक्त प्रयास से जिले में तिलहन फसल सरसों के क्षेत्र को बढाया गया है । पूर्व में जिले में जहां अभी तक लगभग 3 हजार हेक्टर क्षेत्र में सरसों की फसल ली जा रही थी, वहीं इस वर्ष समन्वित प्रयासों से जिले में लगभग 10 हजार हेक्टर में पीला सोना अर्थात सरसों की फसल किसानों द्वारा लगाई गई है। इस फसल का कलेक्टर श्री सुमन द्वारा आज जिले के चौरई विकासखंड के अनेक ग्रामों में भ्रमण कर अवलोकन किया गया । इस दौरान राजस्व अनुविभागीय अधिकारी चौरई श्री ओमप्रकाश सनोडिया, उप संचालक कृषि श्री जितेन्द्र कुमार सिंह, प्रभारी उप संचालक उद्यानिकी श्री राजकुमार कोरी, कृषि अनुविभागीय अधिकारी श्री नीलकंठ पटवारी, सहायक कृषि यंत्री श्री समीर पटेल, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी श्री उमेश पाटिल व उप यंत्री श्री अश्विनी सिंह सहित मैदानी अधिकारी व कर्मचारी भी साथ में थे ।


कलेक्टर श्री सुमन ने चौरई विकासखंड के ग्राम पिपरिया लक्खा में किसान श्री अजय मालवीय के खेत में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन की तिलहन योजना के अंतर्गत फील्ड प्रदर्शनों का अवलोकन किया और किसानों से चर्चा की। किसानों ने बताया कि सरसों फसल से कम लागत एवं कम पानी में अधिक लाभ प्राप्त किया जा सकता है। कलेक्टर श्री सुमन द्वारा फसल की स्थिति देखकर अत्यंत प्रसन्नता व्यक्त की गई और किसानों से चर्चा कर रबी सीजन में कम पानी वाले क्षेत्रों में सरसों फसल को बेहतर विकल्प के रूप में अपनाने की सलाह दी गई। उन्होंने विभागीय राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के अंतर्गत दलहन एवं गेहूँ प्रदर्शन का भी अवलोकन किया । उन्होंने ग्राम सिरस में कृषक श्री विकास पटेल के यहां कस्टम हायरिंग केन्द्र के उन्नत कृषि यंत्रों का अवलोकन भी किया और किसानों से चर्चा की ।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.