कृषि अनुसन्धान से दलहन-तिलहन, आर्गेनिक की खेती बढ़ाने मिशन मोड पर काम – श्री तोमर

Share

6 सितम्बर 2021, बेंगलुरू । कृषि अनुसन्धान से दलहन-तिलहन, आर्गेनिक की खेती बढ़ाने मिशन मोड पर काम – श्री तोमर  कर्नाटक सरकार की मुख्यमंत्री-रैत विद्या निधि योजना का शुभारंभ गत दिवस  मुख्यमंत्री श्री बसवराज बोम्मई और केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किया। इस योजना के तहत किसानों के बच्चों को छात्रवृत्ति देना प्रारंभ किया गया है।श्री तोमर ने विद्यार्थियों के बैंक खातों में छात्रवृत्तिकी राशि सीधे हस्तांतरण की प्रक्रिया शुरू की, वहीं मुख्यमंत्री, केंद्रीय कृषि मंत्री व केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री सुश्री शोभा करंदलाजे ने प्रतीकात्मक रूप से कुछ विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति वितरित की। इस अवसर पर श्री तोमर ने कहा कि देश में आर्गेनिक खेती व नारियल की खेती को बढ़ावा देने के साथ ही दलहन व तिलहन के मामले में आत्मनिर्भरता के लिए केंद्र सरकार मिशन मोड पर तेजी से काम कर रही है। पाम आयल की खेती बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने हाल ही में 11 हजार करोड़ रूपए का मिशन प्रारंभ किया है।

श्री तोमर ने कहा कि छोटे किसानों की ताकत बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री जी ने 6,850 करोड़ रू. की लागत से 10 हजार नए एफपीओ बनाने की योजना चलाई है। पीएम किसान योजना के अंतर्गतअब तक 11.37 करोड़ किसानों को 1.58 लाख करोड़ रू. उनके बैंक खातों में दिए जा चुके हैं। किसान क्रेडिट कार्ड योजना के माध्यम से किसानों को साहूकारी पर निर्भरता कम करने के लिए सालभर में 16 लाख करोड़ रूपए देने का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें से अभी 14 लाख करोड़ रू. की तरलता किसानों के बीच 3 प्रतिशत ब्याज की सब्सिडी के साथ हो रही है।

श्री तोमर ने इस बात पर प्रसन्नता जताई कि कर्नाटक ने कृषि क्षेत्र में काफीप्रगति की है। आर्गेनिक खेती में कर्नाटक अग्रणी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री-रैत विद्या निधि योजना भी कर्नाटक को देशभर से अलग बनाती है, जिसका अनुकरण अन्य राज्यों को करना चाहिए। भारत सरकार भी डिजीटल एग्रीकल्चर प्लेटफार्म पर काम कर रही है।

Share
Advertisements

One thought on “कृषि अनुसन्धान से दलहन-तिलहन, आर्गेनिक की खेती बढ़ाने मिशन मोड पर काम – श्री तोमर

Leave a Reply

Your email address will not be published.