बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आपसी समन्वय की मिसाल कायम: सांसद श्री भार्गव

Share

7 सितम्बर 2022, विदिशा  बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आपसी समन्वय की मिसाल कायम: सांसद श्री भार्गव – विदिशा सांसद श्री रमाकांत भार्गव ने सोमवार को विदिशा जिले में अतिवृष्टि व बाढ़ से हुए नुकसान की समीक्षा की। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित इस बैठक में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले में बाढ़ व अतिवृष्टि से हुए नुकसान पर गहन प्रकाश डाला।

उन्होंने बताया कि बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ व होमगार्ड की टीम सदस्यों के लिए रेस्क्यू कर तीन हजार से अधिक नागरिकों को सुरक्षित स्थलों पर लाया गया। इसके अलावा जिले के तीन ऐसे स्थल थे जहां पर एनडीआरएफ, एसडीआरएफ व होमगार्ड के सदस्य पहुंच नहीं पा रहे थे। उन स्थलों के बाढ़ पीड़ितों को सुरक्षित स्थलों पर लाने के कार्यों में सेना के हेलिकॉप्टर की मदद ली गई।

उन्होंने बताया कि जिले में 28 हजार मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। अब तक 18 करोड़ से अधिक की राशि पीड़ितों के बैंक खातों में जमा कराई जा चुकी है। कलेक्टर श्री भार्गव ने विदिशा ही नहीं बल्कि इंदौर व रायसेन जिलों के उद्योगपति, व्यापारियों व समाजसेवियों के द्वारा विदिशा के बाढ़ पीड़ितों की मदद हेतु पहुंचाई गई सामग्री, वस्त्रों, बर्तन, खाद्य सामग्री इत्यादि की भी जानकारी दी गई। विदिशा सांसद  ने कहा कि विदिशा जिला सदैव परस्पर आपसी समन्वय के लिए जाना जाता है। बाढ़ जैसी स्थिति के दौरान भी यह भावना ओर अधिक प्रबल होकर उभरी है। एक दूसरे के सहयोग से हम किसी भी प्रकार की समस्या के प्रभाव को कम कर सकते हैं। उन्होंने राहत राशि, सामग्री व फसलीय नुकसान के सबंध में भी चर्चा कर जानकारी प्राप्त की है।

कलेक्टर  ने विदिशा सांसद को आश्वस्त कराया कि जिस प्रकार प्रदेश में सबसे पहले विदिशा जिले में मुख्यमंत्री जी द्वारा वन क्लिक के माध्यम से बाढ़ पीड़ितों को राशि जारी की गई है ठीक वैसे ही आगामी तीन दिवस के भीतर फसलों का सर्वे कार्य पूर्ण हो जाएगा और मुख्यमंत्री जी के द्वारा ही फसलीय मुआवजा राशि वन क्लिक के माध्यम से जमा की जाएगी। इसके लिए आवश्यक कार्यों का संपादन पूर्णता की ओर है। इस बैठक में बासौदा विधायक श्रीमती लीना जैन के अलावा श्री राकेश जादौन, श्री राकेश शर्मा, श्री राजेश जैन, श्री कैलाश रघुवंशी के अलावा जिला पंचायत सीईओ, अपर कलेक्टर, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती आरती यादव, श्रीमती अमृता गर्ग, हर्षल चौधरी, एसडीएम श्री वर्मा समेत विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद रहे।

महत्वपूर्ण खबर:15 सितंबर तक पशुओं के आवागमन एवं हाट बाजार पर प्रतिबंध

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.