तीन प्रोजेक्ट हाई पावर लैंड परचेज कमेटी को भेजने की सिफारिश

Share
मुख्य सचिव ने की ई-भूमि पोर्टल के माध्यम से भूमि खरीद के संबंध में सचिवों की समिति की अध्यक्षता

17 मई 2022, चंडीगढ़ । तीन प्रोजेक्ट हाई पावर लैंड परचेज कमेटी को भेजने की सिफारिश हरियाणा के मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल की अध्यक्षता में आज यहां ई-भूमि पोर्टल के तहत विभिन्न परियोजनाओं के लिए जमीन खरीद हेतु सचिवों की समिति की बैठक हुई, जिसमें 3 प्रोजेक्ट्स को हाई पॉवर लैंड परचेज कमेटी को भेजने की सिफारिश की गई। बैठक में कुल 10 प्रोजेक्ट्स के लिए जमीन खरीद के संबंध में चर्चा की गई।

मुख्य सचिव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े संबंधित जिला उपायुक्तों को निर्देश देते हुए कहा कि अन्य परियोजनाओं के लिए आगामी बैठक से पूर्व भू-मालिकों से उनकी सहमति से भूमि खरीदने के संबंध में बातचीत की जाए।

बैठक में बताया गया कि हिसार जिले में एनएच -44 से एनएच -334 / बी को जोडऩे वाली चार लेन सडक़, झज्जर जिले में माजरा दुबलधन से जट्टेला धाम तक सडक़ और सोनीपत जिले में एनएच -44 से एनएच -334 / बी को जोडऩे वाली सडक़ के निर्माण के लिए ई-भूमि पोर्टल पर आवश्यक जमीन हेतु भू-मालिकों ने अपनी सहमती दे दी है। आगामी बातचीत कर भूमि खरीद प्रक्रिया को जल्द अंतिम रूप दे दिया जाएगा। इस पर मुख्य सचिव ने इन प्रोजेक्ट्स को अंतिम मंजूरी प्राप्त करने हेतु हाई पावर लैंड परचेज कमेटी को भेजने की सिफारिश की।

बैठक में जिला फरीदाबाद में बल्लभगढ़ पाली धुज सोहना रोड पर बने दो लेन आरओबी को चार लेन का करने, जिला सोनीपत में चार लेन के गोहाना बाईपास के निर्माण और गाँव तियोडी से गाँव बजाना कलां को जोडऩे वाली नई सडक़ के निर्माण तथा जिला यमुनानगर में लाडवा सरस्वती नगर रोड पर दो लेन आरओबी के निर्माण के संबंध में भी जिला उपायुक्तों ने वास्तविक स्थिति की जानकारी दी। इसके अलावा, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड पानीपत रिफायनरी एंड टाउनशिप के विस्तारीकरण पर भी चर्चा की गई।

मुख्य सचिव ने संबंधित जिला उपायुक्तों को उपरोक्त परियोजनाओं के जल्द क्रियान्वयन के लिए भू-मालिकों से बैठकें कर आगामी प्रक्रिया को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए।
बैठक में राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव तथा वित्त आयुक्त श्री पी. के. दास, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री टी. वी. एस. एन. प्रसाद, लोक निर्माण (भवन एवं सडक़ें) विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री अनुराग रस्तोगी, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री ए के सिंह और चकबंदी एवं भू- रिकॉर्ड विभाग की निदेशक आमना तसनीम सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। इसके अलावा, फरीदाबाद, झज्जर, नूहं, सोनीपत, हिसार, यमुनानगर और करनाल के जिला उपायुक्त वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में शामिल हुए।

महत्वपूर्ण खबर: मुख्यमंत्री की पानी बचाने की अपील को राज्य के किसानों द्वारा मिला भरपूर समर्थन

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.