खेती के साथ मिट्टी की चिंता भी आवश्यक- कृषि मंत्री

Share

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश रोडमैप 2023 पर चर्चा

1 जुलाई 2021, भोपाल ।  खेती के साथ मिट्टी की चिंता भी आवश्यक- कृषि मंत्री  आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश रोडमैप 2023 के तहत कृषि विभाग की एक बैठक  कृषि मंत्री श्री कमल पटेल की अध्यक्षता में हुई जिसमे कृषि मंत्री ने  कहा कि खेती के साथ मिट्टी की चिंता भी आवश्यक है । इस बैठक में  संचालक कृषि  सु श्री प्रीति मैथिल नायक ने कृषि विभाग के “आत्मनिर्भर कृषि ” विषय पर कृषि मंत्री को विस्तार के साथ भविष्य की नीतियो से अवगत कराया। कृषि विकास एवं किसान कल्याण से सम्बंधित भविष्य के नीतिगत मसौदे पर चर्चा की गई ।

कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिये मिट्टी को केंद्र में रखकर संसाधनों को नियोजित करने पर विशेष ध्यान देने पर बल दिया। श्री पटेल ने कहा कि ” फसल चक्र” सर्वाधिक महत्वपूर्ण पहलू है, जिस पर ध्यान देने की महती आवश्यकता है, एक ही फसल लगातार बोने से वायरस और दूसरे रोग अपनी जड़ें जमा लेते है जिनसे लड़ने के लिए रासायनिक दवाओं और कीटनाशकों का ,ज्यादा इस्तेमाल करना पड़ता है औऱ मिट्टी बहुत ज्यादा प्रभावित होती है। उन्होने  ने कहा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के 2023 रोडमेप में कृषि विभाग इस प्रकार की दूरगामी, और स्वस्थ नीतियां बनाये जिससे किसानों की आय दो गुनी हो और पर्यावरण भी स्वस्थ रहे।

संचालक ने कम पानी, अधिक तापमान औऱ लगातार हो रहे जलवायु परिवर्तनों की आवश्यकतओं को ध्यान में रख कर कृषि तकनीकी में सुधार और बदलावों पर आधारित रोडमैप कृषि मंत्री कमल पटेल के साथ साझा किया।
बैठेक में कृषि विज्ञानी, वरिष्ठ कृषि अधिकारी उपस्थित थे

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.