फल-फूलों की खेती को मिलेगा बढ़ावा

Share

उद्यानिकी एवं पुष्प महोत्सव का शुभारम्भ
भोपाल। उद्यानिकी, खाद्य और प्र-संस्करण मंत्री सुश्री कुसुम महदेले ने कहा है कि बाग-बगीचे किसानों और नागरिकों की आय बढ़ाने तथा जीविकोपार्जन का बेहतर साधन हो सकते हैं। जरूरत इस बात की है कि लोगों को फल और फूलों की खेती के लिये प्रेरित किया जाये। सुश्री महदेले भोपाल में स्वर्ण क्रांति अभियान में उद्यानिकी एवं पुष्प महोत्सव का शुभारंभ कर रही थीं।
सुश्री कुसुम महदेले ने कहा कि अभियान के पहले चरण में सभी 51 जिले में उद्यानिकी एवं पुष्प महोत्सव किया जा रहा है। महोत्सव में आगामी फरवरी तक 15 लाख फलदार एवं एक करोड़ फूल के पौधे रोपे जायेंगे। इससे 20 लाख किसान को लाभ मिलेगा। साथ ही 20 लाख नेनो ऑचर्ड-सह-बाड़ी विकास कार्यक्रम भी शुरू किया जा रहा है। इसमें किसान अपनी बाड़ी में फल एवं सब्जी के पौधे लगाकर पौष्टिक आहार की पूर्ति कर अपनी आय बढ़ा सकेंगे। उन्होंने बताया कि अभियान में 15 लाख हेक्टेयर में 20 लाख किसान को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है।
कार्यक्रम में महापौर श्री आलोक शर्मा ने कहा कि भोपाल की पहचान फूलों के शहर की भी बनेगी। नागरिक अपनी बगिया में फूल खिला सके इसके लिये ‘गार्डन एट कॉलÓ योजना शुरू की गई है। योजना में एसएमएस की सुविधा भी शीघ्र शुरू होगी।
प्रमुख सचिव उद्यानिकी श्री प्रवीर कृष्ण ने कहा कि स्वर्ण क्रांति अभियान से 20 लाख किसान को उद्यानिकी से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने बताया कि फल-फूल की खेती से 2 से 20 लाख तक आय हो सकती है। खाद्य प्र-संस्करण कार्य से गाँव, छोटे कस्बे और शहरों को जोड़ा जायेगा। समारोह में संचालक उद्यानिकी श्री महेन्द्र सिंह धाकड़ ने आभार व्यक्त किया।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.