सोनालीका ने मध्यप्रदेश में दहाई में बढ़त दर्ज की – 50 एचपी में उद्योग औसत से आगे

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

इन्दौर। देश के सबसे युवा और तीसरे सबसे बड़े ट्रैक्टर ब्रांड सोनालीका इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड ने मध्यप्रेश में अप्रैल-जुलाई 2017 की अवधि में 50 एचपी श्रेणी में उद्योग के औसत को पछाड़ते हुए 43.3 प्रतिशत की मजबूत वृद्धि दर्ज की है।
इस श्रेणी में ऐसे किसानों को बहुतायत है जो टेक्नालॉजी के लिहाज से ऐसे उन्नत ट्रैक्टरों को चुनते हैं जो खेतों में गहरी और भारी खुदाई, भरान जैसी गतिविधियों जैसे डोजियर एवं लोडर के हिलाज से उपयोगी होते हैं। कंपनी ने राज्य में अप्रैल से जुलाई 2017 के दौरान उद्योग को पीछे छोड़ते हुए कुल मिलाकर 31.7 प्रतिशत का विकास दर्ज कराया है। जुलाई में कंपनी ने राज्य में 415 ट्रैक्टरों की बिक्री कर 27.7 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की है जबकि पिछले साल की इसी अवधि में 325 ट्रैक्टरों की बिक्री दर्ज की गई थी।
भारत में ट्रैक्टर निर्माता कंपनियों के अधिकृत संगठन टीएमए द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक सोनालीका आईटीएल जून के दौरान 50 एचपी श्रेणी में अव्वल नंबर की कंपनी के तौर पर उभरी है।
सोनालीका ट्रैक्टर्स 20-120 एचपी श्रेणी में हैवी ड्यूटी ट्रैक्टरों का निर्माण करते हैं और बेहतरीन टॉर्क उत्पन्न करने के लिहाज से ये ट्रैक्टर प्रौद्योगिकी के मोर्चे पर बेहतरीन हैं। साथ ही उद्योग में मौजूद अन्य ट्रैक्टरों के मुकाबले इनमें भार ढोने की अधिकतम क्षमता है।
इन्दौर में आयोजित पत्रकारवार्ता में श्री मुनीष कुमार वरिष्ठ उपाध्यक्ष (सेल्स एवं मार्केटिंग) ने कहा, ‘मध्यप्रदेश में किसानों की बड़ी संख्या तथा पिछले तीन वर्षों में कृषि क्षेत्र में 20 फीसदी के औसत विकास के चलते यह राज्य हमारे लिए प्राथमिकता वाला बाजार है। कस्टमर-सैंट्रिसिटी हमारी गतिविधियों का मूल आधार है और हम देश-विदेश में अपने किसानों को सर्वोच्च गुणवत्ता वाले उत्पाद मुहैया कराते हैं। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने पिछले 2 दशकों में 80 से अधिक देशों में 7 लाख से ज्यादा ग्राहकों का भरोसा जीता है। हमारे ट्रैक्टरों ने बड़े आकार के इंजनों और अधिक टॉर्क, ईंधन की कम खपत तथा अधिक रफ्तार के बलबूते उद्योग में अपनी साख बनायी है।Ó सोनालीका ने बेरोजगार ग्रामीण युवाओं को अधिक सशक्त बनाने के मकसद से उन्हें कृषि उपकरणों के परिचालन, मरम्मत तथा रखरखाव आदि के बारे में प्रशिक्षित करने के लिए हाल में कृषि अभियांत्रिकी निदेशालय, भोपाल के साथ भागीदारी की है। पत्रकारवार्ता में जोनल हेड श्री आर.पी. गंगवार भी उपस्थित थे।

  • मध्य प्रदेश में 31.7 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की
  • 50 एचपी श्रेणी में भारत की अव्वल नंबर की ट्रैक्टर कंपनी बनी
व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 3 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।