Search Results for: मिनरल्स की कमी

फसल की खेती (Crop Cultivation)

पौधों में पोषक तत्वों की कमी और अधिकता के लक्षण कैसे पहचाने 

…क्योंकि सल्फर की कमी तीव्र होती है। ·       पौधों में सल्फर की अधिकता– पौधो में सल्फर की अधिकता से पत्तिय का समय से पहले गिर  जाती है। 7. पौधों में बोरॉन की कमी और अधिकता के लक्षण ·       पौधों में बोरॉन की

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
उद्यानिकी (Horticulture)

खरीफ फसलों में जिंक, सल्फर की कमी को पहचानें

…हैं। जो समय के साथ सारी पत्तियों पर फैल जाते हैं। अधिक कमी की अवस्था में पौधों की बढ़वार पूरी तरह नहीं हो पाती है, सामान्यत: यदि जस्ते की कमी

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
संपादकीय (Editorial)

पौधों में पोषक तत्वों की कमी के लक्षण और उनका निदान

…। पोषक तत्वों की कमी के लक्षणों की पहचान- पोषक तत्वों की कमी के लक्षणों की पहचान निम्नलिखित आधार पर की जा सकती है। – लक्षण के पाये जाने का…

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements
फसल की खेती (Crop Cultivation)

पौधों के लिए पोषक तत्व और कमी के लक्षण

…नहीं कर सकता। किसी एक तत्व की सान्द्रता जब निश्चित क्रान्तिक स्तर से नीचे आ जाती है तो पौधे में उस तत्व की कमी हो जाती है। इससे पौधे की

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
राज्य कृषि समाचार (State News)

रबी फसलों में पोषक तत्वों की कमी के लक्षण एवं निदान पर वेबिनार

…है। पोटेशियम की कमी से प्याज के पत्ते का पूरा सूखना या गेहूं के पत्तों में पीलापन आना पोटेशियम की कमी के संकेत हैं। इसके लिए मल्टीप्लेक्स उत्पाद अन्नपूर्णा की

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
उद्यानिकी (Horticulture)

सब्जियों की अच्छी फसल के लिए छिड़कें सब्जी स्पेशल

…महत्वपूर्ण है। जिंक: जिंक की कमी से पौधों की वृद्वि रूक जाती है। जिंक की कमी से पत्तों की शिरा साफ दिखती है और ऐसे में बाकी पत्ते /पत्रदल/ पटल…

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements
फसल की खेती (Crop Cultivation)

शून्य जुताई से मूंग की खेती और उसके फायदे

…मूंग की फसल लेने में प्रमुख समस्यायें मूंग की फसल को उगाने में जो प्रमुख समस्यायें आती है इसमें कीट, पंतगों एवं बीमारियों का प्रभाव, खरपतवारों की समस्या, अनिश्चित कालीन…

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

सोयाबीन की उन्नत कृषि कार्यमाला खेती कैसे करें, प्रमुख किस्में , भण्डारण

…का प्रकोप जिसमें तने की मक्खी व चक्रभृंग (तना छेदक कीट), अर्ध कुंडलक इल्ली, कम्बल कीट, तम्बाखू की इल्ली, अलसी की इल्ली, चने की फली छेदक (पत्ती भक्षक कीट) एवं…

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
राष्ट्रीय कृषि समाचार (National Agriculture News)

जलवायु परिवर्तन के लिए तैयार चावल की किस्में: खाद्य सुरक्षा और स्थिरता की दिशा में प्रमुख कदम

…जलवायु परिवर्तन के नकारात्मक प्रभाव पहले से ही बढ़ते तापमान, बढ़ते जल स्तर, पानी की कमी, मौसम परिवर्तनशीलता, कृषि पारिस्थितिकी तंत्र की सीमाओं में बदलाव और अन्य चरम मौसम की

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

धान की सीधी बुआई तकनीक

…आगामी फसलों की उत्पादकता में कमी आने लगती है। जलवायु परिवर्तन, मानसून की अनिश्चितता, भू-जल संकट, श्रमिकों की कमी और धान उत्पादन की बढ़ती लागत को देखते हुए हमें धान…

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें