मेडऩाली पर छिड़का विधि का प्रयोग

www.krishakjagat.org

नीमच। कहते हैं कृषि वैज्ञानिक से भी बड़ा वैज्ञानिक किसान होता है। स्वयं की सूझ-बूझ से नित नये प्रयोग खेत पर करना उसका जुनून होता है। ऐसे ही ग्राम महूडिय़ा के कृषक श्री घनश्याम पाटीदार हैं। इन्होंने 30 किलो उड़द एवं 2 किलो मक्का बीज मिलाकर 6 बीघा भूमि पर छिड़का इसके बाद ट्रैक्टर से मेडऩाली निर्मित की। श्री पाटीदार का मानना है कि इस विधि से दोनों फसलों का बेहतर उत्पादन होगा। कम या अधिक वर्षा का पानी सहने की क्षमता फसल में होगी। श्री पाटीदार ने स्वयं निर्मित कीटनाशक बनाया जिसमें 500 ग्राम तम्बाखू डस्ट, 10 किलो नीम पत्ती, 1 किलो हरी मिर्च, 1 किलो लहसन को पीसकर 10 लीटर गौमूत्र में मिलाकर फसल पर छिड़काव करने से बड़ी इल्ली नियंत्रित रहती है। अन्य जानकारी श्री घनश्याम पाटीदार के मो. नं. 9770242800 पर ले सकते हैं।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share