जैविक खेती के साथ बायो डीकम्पोजर का प्रयोग करें

www.krishakjagat.org

टीकमगढ़। जवाहरलाल नेहरु कृषि विश्वविद्यालय कृषि विज्ञान केंद्र टीकमगढ़ द्वारा संचालित जलवायु समुत्थान शील कृषि पर राष्ट्रीय पहल परियोजनान्तर्गत अंगीकृत ग्राम काँटी में गतदिनों सरसों फसल पर प्रक्षेत्र दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें कि ग्राम के 45 प्रगतिशील कृषकों की उपस्थिति दर्ज की गई। सर्वप्रथम संगोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ. एस. एच. राय ने कृषकों को खाद के संतुलित प्रयोग तथा पोषक तत्वों के एवं उनके प्रबंधन के विषय में समझाया। परियोजना के वरिष्ठ अनुसंधान अध्येता डॉ. संत कुमार शर्मा ने जैविक कृषि अपनाने के साथ ही बायोडीकम्पोजर के प्रयोग करते हुए कृषकों को बेहतर खेती हेतु सुझाव एवं उपयोग के बारे में जानकारी दी। उक्त कार्यक्रम केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. एस. के. सिंह तथा डॉ. एस. के. खरे के मार्गदर्शन में संपन्न हुआ।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share