यूपीएल ने अरिस्टा लाइफ साइंसेस को खरीदा

पांचवी सबसे बड़ी जैनेरिक कंपनी बनी

मुम्बई। रसायनिक उत्पाद बनाने वाली कंपनी यूपीएल ने अमेरिका की अरिस्टा लाइफ साइंसेस को 4.2 अरब डॉलर के नगद सौदे में खरीदने के लिए अबुधाबी इंवेस्टमेंट अथॉरिटी और टीपीजी के साथ करार किया है। हाल के वर्षों में यह किसी भारतीय कंपनी का सबसे बड़ा विदेशी सौदा होगा।

कंपनी ने कहा कि इस सौदे से कृषि समाधान बाजार में उसकी वैश्विक स्थिति मजबूत होगी। इसके बाद वह समग्र बिक्री में पांच अरब डॉलर का निकाय बन जाएगी। इन सौदे से कंपनी को कामकाज में सुविधा होगी और 20 करोड़ डॉलर की बचत होगी। इस सौदे के पूरा होने पर यूपीएल फसल संरक्षण के क्षेत्र में बायर, ड्यूपांट और सिंजेंटा आदि के बाद पांचवी सबसे बड़ी जैनेरिक कंपनी बन जाएगी। अभी यह इस क्षेत्र की नौवीं सबसे बड़ी कंपनी है।

यूपीएल के उपाध्यक्ष श्री विक्रम श्रॉफ ने कहा कि यूपीएल कारपोरेशन ने अरिस्टा लाइफ साइंस इंक और उसकी सहयोगी कंपनियों का नगदी में अधिग्रहण करने के लिए प्लेटफार्म स्पेशियलिटी प्रॉडक्ट्स कॉरपोरेशन के साथ करार किया है। यूपीएल को इससे पहले युनाइटेड फास्फोरस लि. के नाम से जाना जाता है।

www.krishakjagat.org
Share