‘नमामि देवी नर्मदे’ यात्रा 11 दिसम्बर से

Share

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पर्यावरण संरक्षण और स्वच्छता का संदेश देने वाली दुनिया की अनूठी यात्रा ‘नमामि देवी नर्मदे’ 11 दिसम्बर 2016 को अमरकंटक से शुरू होगी। यात्रा का समापन 5 मई 2017 को होगा, जिसमें प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को आमंत्रित किया गया है। श्री चौहान ने इस महत्वाकांक्षी यात्रा की रूप-रेखा एवं तैयारियों के संबंध में मंत्रीगण और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। साथ ही आवश्यक व्यवस्थाओं के लिये व्यापक दिशा-निर्देश दिये।
श्री चौहान ने कहा है कि इस यात्रा में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पर्यावरणविद, विशेषज्ञ, संत-महात्मा, स्वयंसेवी संगठन और आम जनता शामिल होगी। नर्मदा सेवा यात्रा पूरी तरह जन-अभियान होगी। उन्होंने कहा कि सभी मंत्री अपने-अपने प्रभार के जिलों की आयोजन समिति के अध्यक्ष होंगे। वे जिलों में यात्रा की तैयारियों की समीक्षा करेंगे और आवश्यक व्यवस्थाएँ करेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा है कि यात्रा के दौरान नर्मदा किनारे के गाँवों में वृक्षारोपण, हर घर में शौचालय, घाटों की साफ-सफाई, महिलाओं के लिये चेंजिंग रूम तथा किनारे के शहरों में सीवेज की व्यवस्था अनिवार्य रूप से सुनिश्चित की जायेगी। साथ ही तट के प्रत्येक गाँव की नर्मदा सेवा समिति भी गठित की जायेगी। बैठक में बताया गया कि यह यात्रा लगभग 3344 किलो मीटर लम्बी होगी, जो 138 दिन तक चलेगी। यात्रा में पडऩे वाले 1909 किलो मीटर आबादी क्षेत्र में पैदल यात्रा तथा शेष निर्जन क्षेत्र में वाहन यात्रा होगी। यह यात्रा माँ नर्मदा के दोनों तट पर सम्पन्न होगी। दक्षिणी तट पर 1113 किलोमीटर और उत्तरीय तट की 796 किलोमीटर यात्रा शामिल हैं।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.