सलैया में – कृषकों को तिल पर प्रशिक्षण

पन्ना। कृषि विज्ञान केन्द्र पन्ना के डॉ. बी.एस. किरार, वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख द्वारा विगत दिवस ग्राम सलैया विकासखण्ड अजयगढ़ में तिल की उत्पादन तकनीक पर प्रशिक्षण दिया गया।
प्रशिक्षण में हिम्मत सिंह ठाकुर, पहलवान सिंह, देवराज सिंह, टेकचंद कुशवाह, आशाराम केवट एवं अन्य कृषक उपस्थित रहे। डॉ. किरार ने खरीफ की प्रमुख फसलों में कृषकों द्वारा अपनायी जा रही स्थानीय कृषि पद्धति की जानकारी ली। कृषकों ने गांव की प्रमुख फसलें तिल, उड़द, अरहर एवं धान के बारे में बताया। तिल की पैदावार बहुत कम लगभग 1 क्विंटल प्रति एकड़ तक आती है। उन्होंने बताया कि खरीफ की सभी फसलों की बुवाई छिड़ककर करते हैं। कीट व्याधियों से भी फसल को नुकसान होता है। प्रशिक्षण में डॉ. किरार द्वारा तिल की उन्नत तकनीक अन्तर्गत प्रमुख किस्म टी.के.जी 308 एवं टी.के.जी. 306 की विशेषताओं के बारे में बताया। इसके बाद कृषकों को शासन की कृषक कल्याणकारी योजनाओं, कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन एवं मत्स्य पालन विभाग की योजनाओं से अवगत कराया गया।

www.krishakjagat.org
Share