रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

सोयाबीन के बीज को फफूंदनाशक ट्रायकोडर्मा विरीडी 5-8 ग्राम/किग्रा. बीज एवं राइजोबियम, पी.एस.एम. कल्चर 5-5 ग्राम/किग्रा. बीज से उपचारित कर

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

सोयाबीन की उन्नत किस्में आरवीएस-14(90 से 95 दिन), 24 (80 से 85 दिन), जेएस 95-60, 20-29, 20-34, 93-05, एनआरसी-12, 37

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

सोयाबीन में आवश्यक पोषक तत्वों की पूर्ति हेतु खेत की तैयारी के समय अंतिम बखरनी के पूर्व गोबर खाद 10

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

खरीफ फसलों की बोवनी के लिए आदान जैसे बीज, उर्वरक, खरपतवारनाशक, फफूंदनाशक, जैविक कल्चर आदि की व्यवस्था, विश्वसनीय संस्थाओं से

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

ग्रीष्मकालीन सब्जियों एवं मूंग-उड़द में रस चूसक कीट प्रकोप की सम्भावना है इस कारण पौधों में पीला मोजेक रोग की

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

मौसम पूर्वानुमान एवं वर्तमान में तापमान अधिक होने से ग्रीष्मकालीन फसलों में आवश्यकतानुसार सिंचाई सुबह व शाम के समय करें।

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

मूंंग, उडद में माहू, हरा मच्छर, जैसिड एवं सफेद मक्खी आदि के प्रकोप की संभावना है दिखाई देने पर नियंत्रण

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में पंजीकृत किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य पर चना, मसूर या सरसों उपार्जन करता है तो उसे

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

किसान भाईयों हल्दी की बुवाई 15 अप्रैल से 15 जुलाई तक की जाती है। हल्दी की उन्नत किस्में सुगंधा, रोमा,

www.krishakjagat.org
Read more

रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

www.krishakjagat.org

मौसम शुष्क रहने तथा तापमान बढऩे की संभावना को ध्यान में रखते हुए सभी सब्जियों तथा चारा फसलों में हल्की

www.krishakjagat.org
Read more
Share