शीघ्र पकने वाली अरहर की खेती करना चाहता हूं

शीघ्र पकने वाली अरहर की खेती करना चाहता हूं जिसके बाद गेहूं लिया जा सके। बीज, खाद, पकने की अवधि

Read more

गर्मियों में लगाई जाने वाली फसलों के बारे में जानकारी दें जो कम पानी में अधिक उत्पादन दे सके। ओलावृष्टि से फसल के नुकसान का मुआवजा कब मिलेगा।

समाधान – रबी की फसल काटने के बाद सिंचाई साधन उपलब्धि की स्थिति में जायद (ग्रीष्मकाल) में मूंग, उड़द, लोबिया,

Read more

मैंने बसंतकालीन गन्ना लगाया है ग्रीष्मकाल में प्रमुख रखरखाव के बारे में बतलायें।

समाधान – मई-जून माह में तापमान बढ़ता रहता है परिणाम स्वरूप वाष्पीकरण का औसत भी बढ़ जाता है। गन्ना फसल

Read more

विभिन्न फसलों में कीटनाशकों के उपयोग से हानि भी होती है कृपया कुछ महत्वपूर्ण कीटों के हानिस्तर के बारे में बतायें ताकि अंगीकरण किया जा सके।

समाधान- आपका प्रश्न बहुत अच्छा है प्रति उत्तर का लाभ अन्य कृषकों को भी मिलेगा। वास्तविकता यह है कि फसलों

Read more

‘शहरी इंडिया’ के लोगों को न खेती की चिंता है, न किसानों की

आप पूछेंगे कि मैं इंडिया और भारत की बात क्यों कर रहा हूँ। आखिरकार हम सभी इंडिया और भारत के

Read more

ग्वारपाठा की खेती करना चाहता हूं, बुआई के तरीके व खाद के बारे में बताएं।

समाधान – ग्वारपाठा लगभग सभी भूमियों व जलवायु में उगाया जा सकता है। इसे जड़ांकुरों तथा प्रकन्द कटिंग द्वारा लगाया

Read more

ग्वारपाठा की खेती करना चाहता हूं, बुआई के तरीके व खाद के बारे में बतायें।

समाधान –  ग्वारपाठा लगभग सभी भूमियों व जलवायु में उगाया जा सकता है। इसे जड़ाकुंरों तथा प्रकन्द कटिंग द्वारा लगाया

Read more

किसान जैविक खेती सीखने जलगांव हुए रवाना

होशंगाबाद। आत्मा योजनांतर्गत होशंगाबाद जिले के 20 कृषक खेती के तकनीकी ज्ञान एवं जैविक खेती का प्रशिक्षण लेने महाराष्ट्र के

Read more

टमाटर की 18 किलो प्रति पौधा देने वाली जाति अर्का रक्षक के बारे में जानकारी दें

समाधान – टमाटर की अर्का रक्षक जाति भारतीय बागवानी अनुसंधान संस्थान, हिसार, बैंगलोर द्वारा विकसित की गई है। यह संकर

Read more

गेंदा के फूल की खेती करना चाहता हूं। इसकी खेती की जानकारी देने का कष्ट करें, संकर जाति के बीज कहां से उपलब्ध होंगे

समाधान – गेंदे के फूल मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं। यूरोपियन (फ्रेन्च) गेंदा तथा अफ्रीकी गेंदा। फ्रेंच

Read more