ग्रीष्मकालीन मूँग खरीदी 21 जून से

भोपाल। प्रदेश में ग्रीष्मकालीन मूँग की मण्डी विक्रय दर न्यूनतम समर्थन मूल्य 5,575 रुपये प्रति क्विंटल से नीचे होने पर किसानों से 12 जिलों के मूँग उपार्जन केन्द्रों पर 21 जून से खरीदी की जायेगी। किसानों के पंजीयन का कार्य 20 जून तक किया जायेगा। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर ग्रीष्मकालीन मूँग खरीदी के लिये 12 जिलों होशंगाबाद, सीहोर, रायसेन, नरसिंहपुर, जबलपुर, हरदा, विदिशा, गुना, देवास, इंदौर, धार और बालाघाट में उपार्जन केन्द्र बनाये गये हैं। मूँग के पंजीयन के समय उत्पादक किसानों को मूँग के रकबे के भू-अभिलेख, आधार-कार्ड, मोबाइल नम्बर और बैंक खाते के आईएफसी कोड की जानकारी देनी होगी।
मण्डियों में इलेक्ट्रॉनिक तौल-काँटे की सुविधा- प्रदेश की 257 कृषि उपज मण्डियों में इलेक्ट्रॉनिक तौल-काँटे की व्यवस्था की है। मण्डी समितियों में 130 इलेक्ट्रॉनिक तौल-काँटे 10 से 50 टन क्षमता के और 6439 इलेक्ट्रॉनिक तौल-काँटे एक क्विंटल से 5 क्विंटल क्षमता तक के लगाये गये हैं।

10 जून को गेहूँ खरीदी की राशि किसानों के खातों में
भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि 10 जून को गेहूँ उपार्जन की प्रोत्साहन राशि 265 रुपया किसानों के खातों में डाली जाएगी। इसके बाद 13 जून को मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना के हितग्राहियों को लाभांवित किया जाएगा फिर जुलाई माह से पात्र लोगों को 200 रुपये महीना फ्लेट रेट पर विद्युत आपूर्ति की जाएगी।

www.krishakjagat.org
Share