प्रदेश की 257 कृषि उपज मण्डियों में शुरू हुई भावांतर भुगतान योजना

मध्यप्रदेश की 257 कृषि उपज मण्डियों में किसान सम्मेलनों में भावांतर भुगतान योजना का शुभारंभ किया। मंत्रि-परिषद के सदस्यों ने कृषि उपज मण्डियों में किसान सम्मेलन में योजना का शुभारंभ किया।
होशंगाबाद- कृषि उपज मण्डी प्रांगण इटारसी में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा ने भावांतर भुगतान योजना का शुभारंभ किया। विधानसभा अध्यक्ष ने किसान सम्मेलन में कहा कि राज्य सरकार ने खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए कई उपाय किए हैं। कृषि ऋण पर ब्याज के स्थान पर किसानों को अनुदान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2004 में केवल 7.5 लाख हेक्टेयर में सिंचाई होती थी। अब यह बढ़कर 40 लाख हेक्टेयर हो गई है।
ग्वालियर– उच्च शिक्षा मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया ने ग्वालियर की दीनारपुर कृषि उपज मण्डी में भावांतर भुगतान योजना का शुभारंभ किया। श्री पवैया ने कहा कि किसान अपना पसीना बहाकर फसलें उगाते हैं। राज्य सरकार का दायित्व है कि किसानों को उनकी फसल के वाजिब दाम दिलवाए।
धार- पशुपालन मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य ने कृषि उपज मण्डी प्रांगण में पं. दीनदयाल उपाध्याय और श्री श्यामाप्रसाद मुखर्जी के चित्र पर माल्यार्पण कर योजना का शुभारंभ किया।
खण्डवा- जिले की हरसूद कृषि उपज मण्डी में स्कूल शिक्षा मंत्री कुँवर विजय शाह ने कहा कि भावांतर भुगतान योजना किसानों की कड़ी मेहनत को ध्यान में रखते हुए शुरू की गई है।
रायसेन- रायसेन कृषि उपज मण्डी में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह ने भावांतर भुगतान योजना का शुभारंभ कर कहा कि मध्यप्रदेश को कृषि के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए लगातार केन्द्र सरकार की ओर से कृषि कर्मण अवार्ड मिल रहे हैं।
दमोह- दमोह कृषि मण्डी में वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया ने योजना का शुभारंभ करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के साथ-साथ निर्धन वर्ग के हितों का पूरा ख्याल रखा है।
उज्जैन- उज्जैन कृषि उपज मण्डी में ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन ने कहा कि पूर्व में जले हुए ट्रांसफार्मर बदलवाने के लिए किसान से 40 प्रतिशत राशि जमा करवाई जाती थी। अब केवल 20 प्रतिशत राशि लेकर ही किसानों के खेतों में जले हुए ट्रांसफार्मर बदलवाए जा रहे हैं।
शिवपुरी- जिले की कृषि उपज मण्डी कोलारस में खेल एवं युवा कल्याण श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने योजना का उद्घाटन किया। मंत्री श्रीमती सिंधिया ने कहा कि कोलारस क्षेत्र की कृषि उपज सारे प्रदेश में अपनी विशिष्टता के कारण पहचानी जाती है।
देवास- कृषि उपज मण्डी में तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी ने योजना लांच की।
इंदौर- लक्ष्मीबाई नगर कृषि उपज मण्डी में नगरीय प्रशासन मंत्री श्रीमती माया सिंह ने योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि किसान की समाज में अन्नदाता के रूप में पहचान है। जिले में 33 हजार से अधिक किसानों ने योजना में पंजीयन कराया है।
आगर-मालवा- आगर कृषि उपज मण्डी में संस्कृति राज्य मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से किसानों को फसल के नुकसान पर पर्याप्त मुआवजा मिला है।
रीवा- उद्योग मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने रीवा में योजना को शुरू करते हुए कहा कि यह योजना किसानों के लाभ और भविष्य बनाने का कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य में किसान समृद्ध होगा, तभी प्रदेश समृद्ध बनेगा।
विदिशा- कृषि उपज मण्डी में उद्यानिकी मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा ने योजना का शुभारंभ किया। जिले में 139 केन्द्रों पर करीब 70 हजार किसानों के ऑनलाइन पंजीयन किए गए हैं।
गुना- लोक स्वास्थ्य मंत्री श्री रुस्तम सिंह ने मण्डी में भावांतर भुगतान योजना के प्रमाण-पत्र बाँटे।
हरदा- नर्मदा घाटी विकास राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने बताया कि जिले में योजना में 39 हजार किसानों का पंजीयन किया गया है।
भोपाल-प्रदेश की 257 कृषि उपज मण्डियों में शुरू हुई भावांतर भुगतान योजना राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने कृषि उपज मंडी करोंद में कृषकों को प्रमाण-पत्र देकर भावांतर भुगतान योजना शुरू की। श्री गुप्ता ने कहा कि देश ही नहीं बल्कि विश्व की अनूठी योजना है भावांतर भुगतान योजना।

www.krishakjagat.org
Share