भोपाल जिले के सर्वश्रेष्ठ पशुपालक श्री विजय नारायण

भोपाल। साढ़े आठ हेक्टेयर भूमि पर कृषि को व्यवसाय की तरह अपनाकर आर्थिक उन्नति प्राप्त करना किसी चुनौती से कम नहीं होता है। किन्तु अथक मेहनत, कठिन परिश्रम से किया गया कोई भी कार्य सफलता के द्वार खोलता है। हम बात कर रहे हैं ग्राम बंदौरी, वि.खं. फंदा के कृषक श्री विजय नारायण श्रीवास्तव की जिन्हें हाल ही में सर्वश्रेष्ठ पशुपालक का पुरस्कार भोपाल कलेक्टर डॉ. सुदाम खाड़े द्वारा दिया गया। पुरस्कार इनके पुत्र श्री तीरथ राज द्वारा ग्रहण किया गया। पुरस्कार में रु. 10000/- (दस हजार रु.) एवं प्रशस्ति पत्र दिया गया।
श्री विजय नारायण श्रीवास्तव ने अपनी साढ़े आठ हेक्टेयर भूमि पर फसलों के साथ-साथ पशुपालन भी करते हैं। इनके यहां प्रति दिन 100 लीटर दूध का उत्पादन होता है जिनमें गिर, साहीवाल, रेड सिंधी नस्ल की गायप्रमुख हैं। पूर्व में दूध समीपस्थ मंडीदीप के बाजारों में विक्रय करते थे किन्तु अब सांची दुग्ध संघ को विक्रय करते हैं।
श्री श्रीवास्तव ने पिछले वर्ष पूसा बासमती धान का 30 क्विंटल प्रति एकड़ उत्पादन लिया था। इस वर्ष गेहूं की किस्म सुपर-11 लगाई है जिसका 30 क्विंटल प्रति एकड़ उत्पादन की संभावना है। श्री श्रीवास्तव ने खाद्य प्रसंस्करण में फ्लोर मिल स्थापित कर ‘विजय श्रीÓ ब्रांड से आटा -बाजार में उपलब्ध कराते हैं। प्रसंस्करण की जिम्मेदारी छोटे पुत्र श्री दीपक राज को सौंपी है।
गणतंत्र दिवस पर मिले पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में जिले के उपसंचालक कृषि श्री मनोहर देवके, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी श्री एस.के. शर्मा भी उपस्थित थे।

www.krishakjagat.org
Share