विश्वास का दूसरा नाम रासी सीड्स

इन्दौर। देश की कपास उत्पादन के क्षेत्र में उच्च गुणवत्ता वाले बीज उत्पादन की अग्रणी कंपनी रासी सीड्स प्रा. लि. ने पिछले 45 सालों से एक के बाद एक उन्नत किस्में किसानों को उपलब्ध कराई है जिसमें सर्वप्रथम नाम रासी 2 का आता है जो पिछले 25 सालों से किसानों की पसंद बना हुआ है उसके बाद कंपनी ने किसानों की जरूरतों को समझते हुए रासी सीड्स ने आरसीएच 659 लॉच किया जो कि आज हर किसान की पहली पसंद बन गया है और मध्य भारत के किसानों द्वारा सबसे ज्यादा बोई जाने वाली किस्म है इसी कड़ी में कंपनी ने दो नई किस्म लांच की है ये किस्म रासी नियो और मेगना है। रासी नियो हल्की से मध्यम जमीन के लिये उपयुक्त किस्म है इसके डेंडू बड़े व वजनदार होते हैं तथा इसकी चुनाई भी आसान है और इसमें रस चूसक कीटों का आक्रमण भी कम होता है जिसके कारण ये अंत तक हरा-भरा रहता है और रासी मेगना भारी से मध्यम जमीन के लिये उपयुक्त किस्म है तथा इसके भी डेंडू बड़े व वजनदार होते हैं तथा इसकी चुनाई भी आसान है और इसमें रस चूसक कीटों का आक्रमण भी कम होता है इन दोनों किस्मों को लगाकर किसान भाई दूसरी क्रॉप जैसे गेहूं या डॉलर चना भी ले सकते हैं। इस साल कंपनी ने किसानों के लिये एक नई तकनीक का अविष्कार किया है जिसका नाम है रासी जीन चेक जिसके द्वारा किसान भाई बीज खरीदते समय भी अपने बीज की जांच कर सकते हैं की उनके द्वारा खरीदा गया बीज असली है के नहीं। इस तकनीक के कारण रासी बीज का डुप्लीकेट बीज बनाना असंभव है। कंपनी ने पैकेट के ऊपर एक क्यू. आर. कोड दिया है इसको स्क्रेच करने पर एक 15 अंकों का नंबर निकलेगा उसको 8550883366 नंबर पर मैसेज करने पर आपको एक रिटर्न मैसेज प्राप्त होगा जिससे आपको पता चल जायेगा कि आपने जो बीज खरीदा है वो असली है के नहीं। लाखों किसानों ने इस तकनीक का उपयोग करके अपने बीज को परखा है और आप भी अपने बीज को जरूर जांचें।

www.krishakjagat.org
Share