किसानों की मांगों को लेकर श्री सिंधिया का सत्याग्रह

www.krishakjagat.org
Share

भोपाल। मंदसौर में पुलिस की गोली से मारे गये किसान और उनकी मांगों को लेकर पूर्व केन्द्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गत दिनों भोपाल में सत्याग्रह किया। उन्होंने कहा कि मंदसौर की घटना प्रदेश के माथे पर कलंक है। मोदी और शिव ‘राजÓ में किसानों की आत्महत्याएं बढ़ी हैं। तीन साल में 1800 किसान जान दे चुके हैं। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश को शव राज्य बना दिया है। सत्याग्रह के बाद किसानों की समस्या पर प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव और नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह मिलकर संघर्ष की रणनीति बनाएंगे। श्री सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2014 में सरकार में आने के बाद स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करने के लिए एक कमेटी बनाई थी। इसके अध्यक्ष शिवराज सिंह ही थे। कमेटी ने फसल की लागत के अलावा 50 फीसदी कीमत किसान को दिलाने की सिफारिश की थी, लेकिन आज तक किसान को फसल लागत नहीं मिल रही। देशभर में 12 हजार से ज्यादा किसान आत्महत्या कर चुके हैं। श्री सिंधिया के सत्याग्रह में कई कांग्रेसी नेताओं एवं किसानों ने भाग लिया।

www.krishakjagat.org
Share
Share