हाल की वर्षा से खरीफ फसलों को राहत – प्रदेश में 123 लाख हे. में बोनी

www.krishakjagat.org
Share

भोपाल। एक पखवाड़े के बाद मानसून के पुन: सक्रिय होने से खरीफ फसलों को कुछ राहत मिल गई है। अब तक राज्य में 123 लाख हेक्टेयर में खरीफ फसलों की बोनी की गई है। गत वर्ष भी इस अवधि में 123 लाख हेक्टेयर में बोनी कर ली गई थी।
जानकारी के मुताबिक प्रदेश में अब तक 123.89 लाख हेक्टेयर में बोनी कर ली गई है। इसमें धान की बोनी 19.24 लाख हेक्टेयर में की गई है। राज्य की प्रमुख फसल सोयाबीन इस वर्ष 47.89 लाख हेक्टेयर में बोई गई है जो लक्ष्य से लगभग 5 लाख हेक्टेयर कम है।
इसी प्रकार अन्य फसलों में अब तक मक्का 13.14 लाख हेक्टेयर में, तुअर 6.51, उड़द 17.79, मूंगफली 2.18 एवं कपास की बोनी 5.78 लाख हेक्टेयर में की गई है।
कृषि विशेषज्ञों के मुताबिक प्रदेश में तथा राजधानी के निकटवर्ती जिलों में वर्षा के लम्बे अंतराल के कारण फसलें सूखने लगी थीं। हाल ही में हुई वर्षा के कारण फसलों को तथा कृषकों को राहत मिली है।
देश में धान का रकबा बढ़ा
इधर देश में चालू खरीफ सत्र में अब तक धान बुआई का रकबा मामूली बढ़त के साथ 341.58 लाख हेक्टेयर तथा दलहन का रकबा 3.5 प्रतिशत की गिरावट के साथ 130.68 लाख हेक्टेयर के स्तर पर है। देश में 18 अगस्त की स्थिति के अनुसार बुआई का कुल रकबा 976.34 लाख हेक्टेयर है।

   म.प्र. में प्रमुख फसलों की बुवाई स्थिति (लाख हे. में)
 फसल    लक्ष्य        बुवाई
धान 22.89 19.24
ज्वार 1.92 1.54
मक्का 13.32 13.14
बाजरा 2.63 2.58
तुअर 7.81 6.51
उड़द 12 17.79
मूंग 2.5 2.22
सोयाबीन 53 47.89
मूंगफली 2.31 2.18
कपास 5.74 5.78

 

www.krishakjagat.org
Share
Share