Krishak Jagat

खरीफ 2018 की फसलों का पंजीयन 28 जुलाई से

भोपाल। अपर मुख्य सचिव सह कृषि उत्पादन आयुक्त की अध्यक्षता में गत दिनों हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रदेश में खरीफ फसलों के लिए फसलवार पंजीयन ई-उपार्जन पोर्टल पर 28 जुलाई से 31 अगस्त तक किए जाएंगे।

ई-उपार्जन पोर्टल पर फसलवार पंजीयन के तहत धान, ज्वार, बाजरा, सोयाबीन, अरहर, उड़द, मक्का का पंजीयन समस्त जिलों में किया जायेगा। इसके साथ ही कपास का पंजीयन सात जिले खरगोन, धार, बड़वानी, खंडवा, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर एवं झाबुआ जिले में किया जायेगा। इसके साथ ही मूंग का पंजीयन 34 जिलों में, मूंगफली का 20 जिलों में, तिल का 30 जिलों में एवं रामतिल का 13 जिलों में पंजीयन होगा।

खरीफ 2018 के लिए भारत सरकार द्वारा जिन फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किये गये हैं तथा जिनका उपार्जन जैसे- धान, ज्वार एवं बाजरा तथा कपास का पंजीयन ई-उपार्जन पोर्टल पर किया जायेगा। इन फसलों का उपार्जन, भावांतर एवं प्रोत्साहन राशि भुगतान के संबंध में शासन द्वारा बाद में अलग से निर्णय लिया जायेगा। बैठक में निर्णय लिया गया कि पंजीकृत किसानों के बोनी के रकबे का सत्यापन कार्य राजस्व विभाग द्वारा खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग तथा कृषि विभाग द्वारा जारी किये जाने वाले दिशा अनुरूप किया जायेगा।

www.krishakjagat.org