देश में अब 98 फीसदी होगी बारिश

(विशेष प्रतिनिधि)
नई दिल्ली/भोपाल। भारतीय मौसम विभाग ने गत दिनों अपना दूसरा पूर्वानुमान जारी करते हुए कहा कि इस वर्ष मानसून सामान्य रहेगा। पूरे देश में दक्षिण- पश्चिम मानसून लम्बी अवधि औसत का 98 प्रतिशत रह सकता है। जिसमें 4 प्रतिशत की कमी-बढ़ोत्तरी हो सकती है। जबकि विभाग ने अपने पहले पूर्वानुमान में 96 फीसदी वर्षा का पूर्वानुमान लगाया था। वहीं म.प्र. में भी मानसून बेहतर रहेगा, इसके म.प्र. में 14 से 16 जून के मध्य दस्तक देने की संभावना है।
भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पश्चिम मानसून मौसम 2017 में कुल मिलाकर सामान्य (लंबी अवधि औसत) के 96 से 104 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। मात्रा के लिहाज से मानसून की वर्षा के एलपीए का लगभग 98 प्रतिशत रहने की उम्मीद है जिसमें 4 प्रतिशत की कमी-बढ़ोत्तरी हो सकती है। क्षेत्र के हिसाब से मौसमी वर्षा के उत्तर- पश्चिमी भारत में 96 प्रतिशत, मध्य भारत में 100 प्रतिशत, दक्षिण पठारी क्षेत्र में 99 प्रतिशत एवं पूर्वोत्तर भारत में 96 प्रतिशत रहने की उम्मीद है।

www.krishakjagat.org
Share