अब तक गत वर्ष से कम हुई गेहूं की खरीदी

नई दिल्ली। सरकार ने किसानों से गेहूं की ताजा फसल की खरीद शुरू कर दी है तथा चालू विपणन वर्ष में अभी तक 19.31 लाख टन इस अनाज की खरीद की है। खाद्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी। सरकार ने विपणन वर्ष 2018-19 के लिए 320 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया है जबकि पिछले साल सरकारी उपक्रम भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के द्वारा 308 लाख टन गेहूं की खरीद की गई थी।
हालांकि गेहूं विपणन वर्ष अप्रैल महीने से लेकर अगले वर्ष मार्च तक का होता है। लेकिन गेहूं की अधिकांश खरीद इसके पहले तीन महीनों में होती है। सरकार की ओर से एफसीआई और सरकारी एजेंसियां न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर यह खरीद करती हैं।
कृषि मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) ने इस वर्ष अभी तक 19.31 लाख टन गेहूं खरीदा है, जो पिछले साल की समान अवधि में की गई 20.79 लाख टन की खरीद से कम है। मौजूदा समय में मध्य प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में ज्यादातर खरीद हो रही है क्योंकि इन राज्यों में ताजा गेहूं का आना पूरे जोरों पर है। आने वाले महीनों में पंजाब में खरीद बढऩे की उम्मीद है।
पंजाब से सरकार का लक्ष्य 119 लाख टन गेहूं खरीदने का है। इस साल अभी तक एफसीआई ने 14,182 टन गेहूं की खरीद की है, जबकि पिछले साल की समान अवधि में यह खरीद 10,640 टन की हुई थी। मध्य प्रदेश में एफसीआई और राज्य एजेंसियों ने इस साल अभी तक 13.49 लाख टन गेहूं की खरीद की है, जो पिछले साल के 16.5 लाख टन की खरीद के मुकाबले कम है। हरियाणा में भी इस अवधि में पहले के 4.27 लाख टन की तुलना में गेहूं की खरीद कम यानी 3.92 लाख टन की हुई है। एफसीआई ने अभी तक 2018-19 के विपणन वर्ष में हरियाणा से 69,121 टन गेहूं खरीदा है, जो साल भर पहले की समान अवधि के 3,178 टन की खरीद से काफी अधिक है। राजस्थान में गेहूं की खरीद 16,248 टन से बढ़कर 60,678 टन हो गई, जबकि गुजरात में गेहूं खरीद 1,145 टन से बढ़कर 10,944 टन हो गई है।

www.krishakjagat.org
Share