समस्या- धान में खरपतवारों से कैसे निपटा जाये तरीका बतायें।

www.krishakjagat.org
Share

रामलाल यादव, बनखेड़ी
समाधान- धान की फसल में सबसे अधिक खरपतवार का आक्रमण होता है। जिसमें चौड़ी पत्ती वाले, संकरी पत्ती वाले और घास कुल के खरपतवार सभी सम्मिलित हैं। धान की फसल में नींदा नियंत्रण के लिये निवारक, यांत्रिक तथा रसायनिक विधि तीनों को सम्मिलित करके प्रयास करने से ही लाभ संभव है।

  • निवारक विधि में अच्छी विश्वसनीय संस्थान का बीज, गोबर की पकी हुई खाद तथा यंत्रों की साफ-सफाई जरूरी है।
  • यांत्रिक विधि में हल द्वारा नींदानाशक पैडीवीडर इत्यादि का उपयोग करें।
  • रसायनिक विधि में पेन्डीमिथालिन (स्टाम्प) 10-15 किलो सक्रिय तत्व प्रति हेक्टर का छिड़काव बुआई के तीन दिन के अंदर करें।
  • 2-4 डी 0.5 से 1 किलो प्रति सक्रिय तत्व/हे. बुआई के 25-30 दिन के भीतर चौड़ी पत्ती वाले नींदा के लिये।
  • इस प्रकार के सम्मिलित प्रयास से ही धान के खरपतवारों पर रोक लगाई जा सकती है।
  • जहां सांवा का अधिक प्रकोप हो वहां नागकेशन (कत्थई रंग की जाति) ही लगायें ताकि सांवा की पहचान हो सके।
www.krishakjagat.org
Share
Share