समस्या- मैंने गन्ना लगाया है लाल सडऩ रोग हर वर्ष आता है, उपाय बतायें।

www.krishakjagat.org

जयशंकर चौधरी, होशंगाबाद
समाधान – गन्ने का लाल सडऩ रोग आमतौर पर जहां भी गन्ना लगा हो आता ही है क्योंकि बुआई पूर्व गडेरियों (टुकड़ों) का उपचार नहीं हो पाता है। इसके कारण गन्ने के रस की गुणवत्ता पर भी असर पड़ता है। आप निम्न उपाय करें –

  • गन्ने के टुकड़ों का उपचार गर्म हवा से जरूर करें। ऐसा करने से गन्ने के कंडुआ, घास जैसी बढ़वार बीमारियों पर भी रोग लग जाता है।
  • बुआई पूर्व वीटावेक्स अथवा ट्राईकोडर्मा 1 ग्राम/लीटर पानी में घोल बनाकर 10 मिनट तक टुकड़ों को डुबोकर उपचार करें।
  • जल निकास की अच्छी व्यवस्था करें।
  • संतुलित खाद/उर्वरक का उपयोग करें।
  • रोग रोधी जातियां जैसे को.87025, को.जवाहर 86-600, को. 94012, को.91010 इत्यादि ही लगायें।
  • पत्तियां जो रोगग्रसित हों उनको जलाकर नष्ट करें।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share