समस्या- तोरिया, कुसुम की फसल कब तक लगाना चाहिए ताकि दूसरी फसल भी ली जा सके। उपयुक्त जातियों के नाम भी लिखें।

समाधान- आपका प्रश्न सामयिक है। वर्तमान में आप तोरिया, कुसुम दोनों लगा सकते हैं। परन्तु दूसरी फसल की सम्भावनायें केवल तोरिया काटने के बाद सम्भव है। कुसुम की कटाई देरी से हो पाती है इस कारण कुसुम के बाद दूसरी फसल केवल जायद में ही सम्भव है। आप तो कृषक जगत के सदस्य भी हैं। उन्नत किस्मों में तोरिया की डीके-1, टी.एल.सी., संगम, टाईप 9, एम. 27, टीएस. 29, अग्रणी, बी.आर. 73, भवानी, पंचाली तथा जवाहर तोरिया 1, वहीं कुसुम की जवाहर कुसुम 1, जवाहर कुसुम 7, जवाहर कुसुम 13, जवाहर कुमकुम 97 तथा जवाहर कुसुम 99 प्रमुख हैं।

भास्करराव, पांडुर्णा

www.krishakjagat.org
Share