समस्या- सोयाबीन में पीला मोजेक लगता है बचाव तथा उपचार के उपाय सुझायें।

www.krishakjagat.org

पी.एल. शाह, विदिशा
समाधान- पीला मोजेक बीमारी से वाईरस सफेद मक्खी के द्वारा फैलता है इसका विस्तार 70 प्रतिशत खेतों में पाया गया है मूंग के बाद सोयाबीन में अधिकतर आता है। इसकी रोकथाम के लिये निम्न उपचार करें।

  • जायद की मूंग के बाद यथासम्भव सोयाबीन नहीं लगायें।
  • रोगरोधी जातियां पी.के. 416, पी.के. 564, पी.के. 1024, पी.के. 1029, पी.के. 1042, पी.एस. 1092, एस.एस. 295 आदि ही लगायें।
  • रोगग्रसित पौधों को उखाड़ कर नष्ट करें।
  • बीज बुआई पूर्व 3 ग्राम थायोमिथोक्जाम 70 पी./किलो बीज का उपचार करें।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share