समस्या- सोयाबीन में गेरूआ कब आता है, क्या उपचार करना होगा।

www.krishakjagat.org

कृष्णकांत चौरे, मालाखेड़ी
समाधान- सोयाबीन में गेरूआ लगने का समय यही है सतत वर्षा से आद्र्रता भी बढ़ गई है आपको पत्तियों के निचली सतह में ध्यान देना होगा वातावरण का तापमान 18 से 28 डिग्री से.गे्र. अगर होगा तो प्रकोप तीव्रता से बढ़ सकता है। निचली पत्तियों पर गेरूआ के उभरे धब्बे दिखेंगे धब्बों को दबाने से रोरी हाथ में लगेगी तभी वह गेरूआ है उसके बाद ही निम्न उपचार करें-

  • हेक्साकोनाजोल अथवा प्रोपीकोना-जोल या अक्सीकाबेक्सीन की 800 मि.ली. मात्रा 800 लीटर पानी में घोल बनाकर 10 दिनों के अंतर से दो छिड़काव निचली पत्तियों पर किया जाये।
  • बुआई 35-40 दिन बाद बचाव हेतु एक छिड़काव पहले यदि किया जाये तो अच्छे परिणाम होंगे।
  • रोग-रोधी जातियां जैसे पी.के. 1029, पी.के. 1024, जे.एस. 20-21, अंकुर तथा इंद्रिरा 9 लगायें।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share