KRISHAK JAGAT

समस्या -लहसुन की उन्नत जातियां कौन-कौन सी हैं। हमारे क्षेत्र में कौन सी जाति उपयुक्त रहेगी। लहसुन में खाद की मात्रा भी बतायें।

www.krishakjagat.org

समाधान- लहसुन की उन्नत किस्में उनके पकने की अवधि अुसार निम्न है।

  • आई.सी. 35265, 100 दिन में तैयार हो जाती है। कन्द मध्यम आकार के होते है उत्पादन क्षमता 80-100 क्विंटल प्रति हेक्टर.
  • यमुना सफेद-3 (जी 282)140 से 150 दिन में पकती है। कन्द सफेद व बड़े आकार के रहते हैं उत्पादन क्षमता 175-200 क्विंटल प्रति हेक्टर, मध्यप्रदेश व निर्यात के लिये उपयुक्त जाति।
  • एग्रीफाउन्ड व्हाइट (जी-41)-150 से 160 दिन में पकती है। कली सफेद बड़ी, उत्पादन क्षमता 130-140 क्विंटल प्रति हेक्टर।
  • यमुना सफेद (जी-1) 150-160 दिन में पकती है। 25-30 कलियां प्रति कन्द, उत्पादन क्षमता 150-175 क्विंटल प्रति हेक्टर।
  • यमुना सफेद-2 (जी-50) 165 से 170 दिन में पकती है। कन्द मध्यम, उत्पादन क्षमता 150-155 क्विंटल प्रति हेक्टर, बैंगनी धब्बा रोग के प्रति सहनशील।
  • मध्यप्रदेश के लिए यमुना सफेद-3 तथा एग्रीफाउंड व्हाइट (जी-41) उपयुक्त जातियां हैं। लहसुन की फसल में 15 से 20 टन गोबर की खाद प्रति हेक्टर तथा 50 किलो नत्रजन, 50 किलो फास्फोरस तथा 80 किलो पोटाश प्रति हेक्टर के मान से दें। नत्रजन व फास्फोरस की पूरी मात्रा बुआई के समय दें।

किशन सिंह पाटीदार, मंदसौर

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share