मध्यप्रदेश में – प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना पड़़ी ठप

उद्यानिकी के पोर्टल पर ड्रिप पंजीयन नहीं खुले

(राजेश दुबे)
भोपाल। मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना उद्यानिकी विभाग के पोर्टल पर बंद पड़ी हुई है। योजना में न तो नये पंजीयन हो रहे हैं न ही पूर्व में किये गये पंजीयनों की स्थिति स्पष्ट हो रही है, फलस्वरूप ‘पर ड्रॉप मोर क्रॉप’ नारे के बीच किसानों की ‘क्रॉप’ एक-एक ड्रॉप के लिये तरस रही है किसान एक बार फिर से मानसून पर आश्रित हो गया है।

डीबीटी के चक्कर में 29 मई 2018 से ठप पड़ी यह अनुदान योजना विभागीय शीर्ष अधिकारियों की बैठकों के कई दौर के बावजूद चालू नहीं हो पाई है। योजना पर अस्थाई रोक के बाद से ही कई स्तरों पर विरोध के बाद भी योजना शीघ्र प्रारंभ करने के लिये शासन स्तर पर कोई गंभीरता नजर नहीं आ रही है। प्रदेश की कृषि से जुड़े विभागों में सामंजस्य का अभाव किसानों और सप्लायरों दोनों को परेशान कर रहा है। जो किसान पोर्टल बंद होने के पहले ही कम्पनियों को कृषक अंश जमा कर चुके हैं वे अब भी अपनी स्थिति को लेकर परेशान हैं कमोवेश यही स्थिति सप्लायरों की है। ड्रिप उद्योग के सूत्र बताते हैं कि पोर्टल के बंद होने से गत वित्तीय वर्ष के कार्यों का भुगतान भी प्रभावित हो रहा है। सूत्र बताते हैं कि इस तरह के कार्यों का लगभग 20-25 करोड़ रु. का भुगतान विभाग के पास लंबित है।

शासन को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना शीघ्र प्रारंभ कराने की ओर ध्यान देना होगा। अन्यथा इसके विपरीत परिणाम प्रदेश की कृषि उत्पादकता पर भी पड़ सकते हैं।

www.krishakjagat.org
Share