संचालक कृषि से कृषक जगत की बातचीत

खरीफ में बढ़ेगा धान का रकबा: श्री मोहन लाल

राज्य में अब तक 49 लाख हेक्टेयर में बोनी
(अतुल सक्सेना)
भोपाल। प्रदेश में मानसून के आते ही खरीफ बोनी में तेजी आयी है। अब तक 49 लाख 32 हजार हेक्टेयर में बोनी कर ली गई है जबकि लक्ष्य 131 लाख 96 हजार हेक्टेयर रखा गया है। गत वर्ष 130 लाख 78 हजार हेक्टेयर में खरीफ की बोनी की गई थी। इस वर्ष धान, उड़द एवं अरहर का रकबा बढ़ाया गया है साथ ही सोयाबीन के रकबे में लगभग 4 लाख हेक्टेयर की कमी की गई है। यह जानकारी म.प्र. के संचालक कृषि श्री मोहनलाल ने कृषक जगत को विशेष मुलाकात में दी।

श्री मोहनलाल ने बताया कि राज्य में खरीफ का सामान्य क्षेत्र 118.50 लाख हेक्टेयर है इस वर्ष लगभग 132 लाख हेक्टेयर में खरीफ फसलें लेने का लक्ष्य रखा गया है इसके विरूद्ध अब तक 49.32 लाख हेक्टेयर में बोनी हो गई है जो लक्ष्य के विरूद्ध 37 फीसदी है। उन्होंने बताया कि इस वर्ष धान के रकबे में लगभग 2 लाख हेक्टेयर की बढ़ोत्तरी होने का अनुमान है अब तक 22.50 लाख हेक्टेयर लक्ष्य के विरूद्ध 1.56 लाख हेक्टेयर में धान बोई गई है।
संचालक कृषि ने बताया कि प्रमुख फसल सोयाबीन में गत दो वर्षों से हुए नुकसान के चलते किसानों का रुझान कम है। अब तक 46.05 लाख हेक्टेयर लक्ष्य के विरूद्ध 27.55 लाख हेक्टेयर में बोनी की गई है। उन्होंने बताया कि अब तक मक्का 7.86 लाख हेक्टेयर में तथा ज्वार 76 हजार हेक्टेयर में बोई गई है।
श्री मोहनलाल ने बताया कि इस वर्ष दलहनी फसलों का रकबा बढऩे की उम्मीद है। तुअर एवं उड़द के लक्ष्य में क्रमश: 60 हजार एवं 30 हजार हेक्टेयर की वृद्धि की गई है। अब तक अरहर की बुवाई 7.10 लाख हेक्टेयर लक्ष्य के विरूद्ध 1.21 लाख हेक्टेयर में तथा उड़द 18.10 लाख हेक्टेयर लक्ष्य के विरूद्ध 4 लाख ह्ेक्टेयर में बोई गई है। उन्होंने बताया कि अब तक कपास की बुवाई 6.28 लाख हेक्टेयर लक्ष्य के विरूद्ध 4.87 लाख हेक्टेयर में कर ली गई है।
संचालक कृषि ने बताया कि खरीफ फसलों के समर्थन मूल्य में भारी वृद्धि के कारण रकबा बढऩे की संभावना है। विशेषकर मोटे अनाज एवं दलहनी फसलों का क्षेत्र बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि राज्य में लगभग 20 लाख क्विंटल से अधिक बीजों का वितरण किया जाएगा, इसमें सोयाबीन का बीज लगभग 13 लाख 40 हजार क्विंटल वितरित करने का लक्ष्य है।
श्री मोहनलाल ने बताया कि राज्य में आदान सामग्री की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि इस वर्ष कुल 22.15 लाख मी. टन उर्वरक वितरण का लक्ष्य रखा गया है जो गत वर्ष से लगभग 2 लाख मी. टन अधिक है। उन्होंने बताया कि इस वर्ष यूरिया 9.50 लाख मी.टन, डीएपी 6 लाख, काम्पलेक्स 1.30 लाख, एमओपी 75 हजार एवं एसएसपी 4.50 लाख मी. टन वितरित किया जाएगा।
संचालक कृषि ने कहा कि बढ़े हुए समर्थन मूल्य को ध्यान में रखकर किसान भाईयों को बोनी करनी चाहिए। जिससे अच्छा लाभ मिल सके।

 म.प्र. में बुवाई स्थिति (लाख हे.में)
फसल लक्ष्य बुवाई
धान 22.5 1.56
ज्वार 2.75 0.76
मक्का 13.5 7.86
अरहर 7.1 1.21
उड़द 18.1 4
मूंग 2.5 0.48
सोयाबीन 46.05 27.55
मूंगफली 2.6 0.58
कपास 6.28 4.87

www.krishakjagat.org
Share