छात्रों के लक्ष्य को पूरा करने में एसआरएम इंस्टीट्यूट की प्रमुख भूमिका : श्री राजाराजन

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

एसआरएम इंस्टीट्यूट आफ  साइंस एंड टेक्नोलॉजी का 15वां दीक्षांत समारोह

कट्टनकुलाथूर। एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नालॉजी का 15वां दीक्षांत समारोह संपन्न हुआ। इस अवसर पर छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुये श्री सतीश धवन स्पेस सेंटर एसएचएआर, इसरो, हरिकोटा के निदेशक श्री ए राजाराजन ने कहा कि चुनौतियां हमेशा आपके सामने रहेंगी, पर क्या आप उन चुनौतियों का सामना करने के लिये तैयार हैं। उन्होने कहा  कि  कठिन  परिश्रम और लगन  की  बदौलत  आप   बेहतर  नतीजे  प्राप्त  कर  सकते हैं। अपने अभिभावकों, शिक्षकों और उन सभी लोगों को याद रखें जिन्होंने आपकी जिंदगी में एक बेहतर रोल प्ले किया है। कॉलेज लाइफ से बाहर की दुनिया अलग है और कठिन है। ऐसे समय में जो अहम बातें आपने अपने संस्थान से सीखी हैं। यह सब आपको इन परिस्थितियों का सामना करने में मदद करेंगी। उन्होंने सभी स्टूडेंट से अपील करते हुये कहा कि अपने सपनों को कभी छोड़े मत।  इस लक्ष्य को पूरा  करने में एसआरएम इंस्टीट्यूट अपना अहम रोल निभा रहे हैं।
उन्होंने इंजीनियरिंग और टेक्नालॉजी विभाग के 113 छात्रों को मेडल और रैंक से सम्मानित किया। वहीं 90 छात्रों को पीएचडी डिग्री दी। इस दौरान कुल 9010 छात्रों को ग्रेजुएट और डॉक्टरेट डिग्री दी।
एसआरएम आईएसटी के संस्थापक और चांसलर, सांसद डॉ. टी.आर. पारीवेंधर ने इस मौके पर श्री के.एन. व्यास चेयरमैन ऑफ एटॉमिक एनर्जी कमीशन और सचिव, एटॉमिक एनर्जी विभाग, भारत सरकार को ऑनरेरी डिग्री  डॉक्टर आफ साइंस से सम्मानित किया।
एसआरएम आईएसटी के वाइस चांसलर डॉ. संदीप संचेती ने  वार्षिक रिपोर्ट पेश की। दीक्षांत समारोह का आयोजन एसआरएम आईएसटी के प्रेसीडेंट डॉ. पी. सत्यनारायणं और को-चेयरमैन एसआरएम रामापुरम् एस निरंजन, प्रो वाइस चासंलर डॉ टीपी गणेशन, प्रो वाइस चांसलर डॉ. आर. बालासुब्रहमण्यम, रजिस्ट्रार डॉ एन सेथुरमन, मेंबर ऑफ  बोर्ड, मेंबर ऑफ एकेडमिक कौंसिल और अन्य सदस्य मौजूद थे।
चित्र परिचय: के.एन. व्यास, चेयरमैन ऑफ एटॉमिक एनर्जी आयोग तथा सचिव विभाग एटॉमिक एनर्जी को एसआरएम आईएसटी के संस्थापक और चांसलर, सांसद डॉ. टी.आर. पारीवेंधर ने ऑनरेरी डिग्री  डॉक्टर ऑफ  साइंस से सम्मानित किया।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 − 2 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।