मेरा गांव-स्वस्थ गांव अभियान एक मई से 30 जून तक

www.krishakjagat.org

जयपुर। प्रदेश में एक मई से 30 जून तक संचालित किये जाने वाले राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार के दौरान चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा मेरा गांव-स्वस्थ गांव अभियान संचालित किया जायेगा। अभियान के दौरान प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली लगभग 75 प्रतिशत आबादी की जांच के साथ ही मौसमी बीमारियों व मच्छरों की रोकथाम के लिए अनेक गतिविधियां आयोजित की जायेंगी।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री कालीचरण सराफ ने सीफू में मेरा गांव-स्वस्थ गांव अभियान के शुभारम्भ के अवसर पर आयोजित बैठक में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एन्टीलार्वा गतिविधियां, पेयजल स्रोतों की सफाई व क्लोरीनेशन, फोगिंग, मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए प्रचार-प्रसार गतिविधियों के साथ ही टीबी रोकथाम व तम्बाकू उपयोग की रोकथाम पर भी विशेष ध्यान दिया जायेगा।
श्री सराफ ने दो माह के इस विशेष अभियान के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर जांच के साथ ही मौसमी बीमारियों की रोकथाम पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता प्रतिपादित की। उन्होंने कहा कि इस दौरान मौसमी बीमारियों की संभावना को देखते हुए शहरी क्षेत्रों में भी स्वास्थ्य सेवाओं में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाये।
उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के समस्त अधिकारियों व चिकित्साकर्मियों से इस अभियान के दौरान विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये।
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अभियान के दौरान 43 हजार 440 विलेज हैल्थ सेनीटेशन कमेटियों एवं 4 हजार 708 महिला आरोग्य समितियों के लगभग 7 लाख 22 हजार सदस्यों को आमुखीकरण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि अभियान के दौरान एएनएम या आशा या वीएचएससी के सदस्यों द्वारा घर-घर सर्वेक्षण किया जायेगा एवं बुखार, उल्टी-दस्त, लू-तापघात, पीलिया, हाइपरटेंशन, डायबिटिज, टीबी आदि बीमारियों के बारे में सर्वेक्षण किया जायेगा। अभियान के दौरान मौसमी बीमारियों की रोकथाम एवं विशेषरूप से मच्छरों की रोकथाम पर विशेष धन दिया जायेगा।
पेयजल टंकियों की सफाई करवाने के साथ ही जल स्रोतों पर एन्टीलार्वा गतिविधियां आयोजित की जायेगी।
अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्रीमती वीनू गुप्ता ने बताया कि गत दिनों 21 से 23 मार्च तक ”स्वास्थ्य दल आपके द्वार” अभियान के दौरान करीब एक लाख दलों द्वारा 78 लाख घरों का सर्वेक्षण किया गया है। इस अभियान से मौसमी बीमारियों की रोकथाम के सकारात्मक परिणामों को देखते हुए मेरा गांव-स्वस्थ गांव अभियान प्रारम्भ किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 23 व 24 अप्रेल को जिला कलक्टर स्तर पर सभी जिलों में समीक्षा बैठकें आयोजित की जा रही है। इसके बाद 25 व 26 अपे्रल को ब्लाक स्तर, उपखण्ड स्तर पर शिविर की तैयारियों की समीक्षा बैठकें आयोजित की जायेगी। अभियान में 43 हजार 440 विलेज हैल्थ एंड सेनीटेशन कमेटियों व 4 हजार 708 महिला आरोग्य समितियों के करीब 7 लाख 22 हजार सदस्यों का आमुखीकरण किया जायेगा। अभियान के बारे में जिला स्तर पर 30 अप्रेल को मीडिया आमुखीकरण कार्यशालाओं का भी आयोजन किया जायेगा।
बैठक में प्रमुख शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा श्री आनंद कुमार, प्रबंध निदेशक आरएमएससी श्री महावीर प्रसाद शर्मा, निदेशक जनस्वास्थ्य डॉ. वी.के.माथुर, अतिरिक्त निदेशक डॉ. एस.एन. धौलपुरिया, निदेशक चिकित्सा शिक्षा श्री बच्छनेश अग्रवाल, सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. यू.एस. अग्रवाल ड्रग कन्ट्रोलर श्री राजाराम शर्मा व श्री अजय पाठक सहित संबंधित अधिकारीगण मौजूद थे।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share