Heramba

गुणवत्तायुक्त उत्पाद उपलब्ध कराना हेरंबा का लक्ष्य : श्री शेट्टी

www.krishakjagat.org

हेरंबा के नए केमिकल यूनिट का शुभारंभ, नए उत्पाद लांच

इंदौर। हेरंबा ने हाल ही में अपने नए प्लांट यूनिट नं. 6 का शुभारंभ किया। इस अवसर पर कम्पनी के एमडी श्री एस.के. शेट्टी ने कृषक जगत को बताया कि कंपनी के पास आज 6 यूनिट हो गए हैं। कंपनी दुनिया के अनेक देशों में अपने उत्पाद निर्यात कर रही है। उन्होंने बताया कि किसानों का विश्वसनीय ब्रांड बन चुके हेरंबा इंडस्ट्रीज के उत्पादों का उपयोग कर लाखों किसान लाभ उठा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि एमडी श्री एस.के. शेट्टी स्वयं कृषक परिवार से होने के कारण हेरंबा इंडस्ट्रीज सदैव कृषक सेवा को सर्वोपरि मानकर उत्पाद निर्माण करती है। कंपनी का प्रमुख ध्येय किसानों की मांग के अनुरूप नई पीढ़ी को गुणवत्तायुक्त उत्पाद उचित दाम पर उपलब्ध कराना है। उन्होंने बताया कि कृषकों को नवीन खेती तकनीकी जानकारी उपलब्ध कराने के लिये कंपनी द्वारा कृषक प्रशिक्षण शिविर भी आयोजित किये जा रहे हैं।
श्री शेट्टी ने बताया कि कंपनी ने 13 नए उत्पाद लांच किये हैं। जिनमें बिस्पायरी म्यूरॉन, डाइजोल, प्रॉम्प्ट-प्लस, प्रोलीन,फिदा, बुप्रो-स्टार, नीम ऑइल 3000 पीपीएम और 10000 पीपीएम हैं।
इस अवसर पर कंपनी के जोनल मैनेजर श्री मनीष विजयवर्गीय भी उपस्थित थे।

जायम – यह नई पीढ़ी का अंतरप्रवाही कीटनाशक है। इसका टेक्रीकरन लेम्डा सायलोथ्रिन 5 प्रतिशत ईसी है। यह सभी फसलों के लिये उपयोगी है। जायम स्टीम बोरर, लीफ फोल्डर, बॉलवार्म जेसिड, थ्रिप्स व हापर के लिए अचूक कीटनाशी है।
प्रोग्रेस प्लस – प्रोग्रेस द्वारा प्रोफेनोफॉस सायपरमेथ्रिन का मिश्रण है जो कि इल्लियों के लिये कारगर दवा है। कपास के लिए यह अचूक कीटनाशक है।
हेरा शक्ति – सायपर-फ्लोरो के काम्बिनेरान की जगह हैरा शक्ति का उपयोग कर सकते है। अल्फा-क्लोरो की शक्ति कीटों पर दुगुना आक्रमण करके उनको नष्ट कर देती है। धान फसल का विपुल उत्पादन प्राप्त करने के लिये हैरा शक्ति अचूक असरकारक है।
जीवन गोल्ड – इसके उपयोग से अंकुरण क्षमता बढऩे के साथ प्रकाश संश्लेषण में वृद्धि होती है। यह पौधों में सूक्ष्म पोषक तत्वों के उपभोग में सहायक होकर पुष्पण को बढ़ाता है। यह विपरीत परिस्थितियों जैसे सूखा, उच्च नमी, पाला आदि में पौधों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक होता है।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share