खरीफ 2018 – प्रदेश में 20 लाख क्विंटल से अधिक होगा बीज वितरण

(विशेष प्रतिनिधि)
भोपाल। इस वर्ष खरीफ 2018 में सोयाबीन बीज का वितरण 13 लाख 40 हजार क्विंटल से अधिक होने का अनुमान है। राज्य में कुल 20 लाख 32 हजार क्विंटल बीज वितरण का लक्ष्य रखा गया है जिसमें सभी फसलों के बीज शामिल है। इसमें आधे से ज्यादा केवल सोयाबीन बीज है। सोयाबीन राज्य की प्रमुख खरीफ फसल है परंतु विगत 2-3 वर्षों में प्राकृतिक आपदा के कारण हुए नुकसान से किसानों का मोह भंग हुआ है। परंतु इस वर्ष बेहतर मानसून की भविष्यवाणी से किसानों को उम्मीद है कि सोयाबीन के साथ-साथ अन्य खरीफ फसलों का उत्पादन अच्छा होगा।

जानकारी के मुताबिक खरीफ के लिए कृषि विभाग ने निजी एवं सरकारी संस्थाओं को मिलाकर कुल 20 लाख 32 हजार क्विंटल से अधिक बीज वितरण का लक्ष्य रखा है। इसकी तुलना में लगभग 19 लाख 26 हजार क्विंटल बीज व्यवस्था का अनुमान है। सरकारी संस्थाओं द्वारा अब तक 4 लाख 29 हजार क्विंटल बीज व्यवस्था की गई है जबकि निजी संस्थाओं द्वारा 14 लाख 96 हजार क्विंटल से अधिक बीज उपलब्ध कराए जाने की संभावना है। गत वर्ष खरीफ में 17 लाख 95 हजार क्विंटल कुल बीज वितरण किया गया था इसमें सरकारी संस्थाओं ने 4 लाख 74 हजार क्विंटल तथा निजी संस्थाओं ने 13 लाख 20 हजार क्विंटल बीज उपलब्ध कराया था।

 प्रमुख फसलों के बीज वितरण लक्ष्य (लाख क्विंटल में)
फसल लक्ष्य
धान 3.31
मक्का 1.75
उड़द 0.61
मूंग 0.31
अरहर 0.3
सोयाबीन 13.4
कपास 0.11
मूंगफली 0.18

सूत्रों के मुताबिक इस वर्ष प्रमुख फसलों में धान बीज 3 लाख 31 हजार क्विंटल, मक्का 1 लाख 75 हजार क्विंटल, अरहर 30 हजार क्विंटल, सोयाबीन 13 लाख 40 हजार क्विंटल एवं कपास का 11 हजार क्विंटल बीज वितरण का लक्ष्य कृषि विभाग ने रखा है।

बीज उपलब्ध कराने वाली प्रमुख सरकारी संस्थाएं

  • राज्य बीज एवं फार्म विकास निगम
  • सरकारी फार्म
  • राज्य बीज संघ
  • राष्ट्रीय बीज निगम
  • बीज मिनिकिट वितरण

www.krishakjagat.org
Share