इंसेक्टिसाइड्स (इंडिया) ने म.प्र. में कायाकल्प लांच किया

इन्दौर। अग्रणी कीटनाशक निर्माता कम्पनी इंसेक्टीसाइड्स (इंडिया) लि. ने मिट्टी की जैविक उर्वरता बढ़ाने के लिये जैव उत्प्रेरक कायाकल्प म.प्र. में लांच किया।
आईआईएल का क्रांतिकारी उत्पाद कायाकल्प मिट्टी में जैविक रूप से ऑर्गेनिक कार्बन को फिर से जीवंत करेगा।
कायाकल्प, मिट्टी की जैविक क्षमता में सुधार करने के लिए एक प्राकृतिक उत्प्रेरक के रूप में काम करता है, इसके पोषक तत्व इसके क्षमता को मजबूत करते हैं और मिट्टी के लिये स्वास्थ्य बूस्टर टॉनिक के रूप में कार्य करते है, इससे पानी की कमी के दौरान मिट्टी को अधिक देर तक पानी को बनाए रखने में मदद मिलती है। यह उत्पाद नेशनल सेंटर ऑफ ऑर्गेनिक फार्मिंग कृषि और कल्याण मंत्रालय द्वारा विधिवत रूप से जांचा गया और अनुशंसित किया गया है, इसकी विशेषताओं के लिए यह नेशनल सेंटर ऑफ ऑर्गेनिक फार्मिंग द्वारा मान्यता प्राप्त भी है। कायाकल्प सरकार के साथ ‘ग्रो सेफ फूड’ मिशन में भागीदार है।
इस अवसर पर आईआईएल के प्रबंध निदेशक श्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि हमारी कंपनी के उद्देश्य हमेशा ऐसे अनुसंधानों और नये उपायों को तलाशना है जिससे किसान कृषि उत्पादन के क्षेत्र में आने वाली चुनौतियों का सामना आसानी से कर सकें। मृदा का क्षरण और क्रमिक रूप से घटती मिट्टी की उर्वरता निश्चित रूप से किसानों के लिये सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है। हमारे सबसे उन्नत प्रयोग कायाकल्प के साथ, हम किसानों को एक ऐसे उपकरण से लैस करने में सक्षम होंगे जो उनकी मिट्टी की उर्वरता को बढ़ायेगा, जिससे उनकी उत्पादन क्षमता बढ़ेगी और उपज अधिक होगी।
कम्पनी के वाइस प्रेसीडेंट श्री पी.सी. पब्बी ने कहा, जब उत्पाद की बात आती है तब हम ये आसानी से विश्वास नहीं कर पाते हैं कि यह परिणाम भी देगा या नहीं, इसी को ध्यान में रखते हुए देश भर के विभिन्न हिस्सों से हमने 50 से अधिक प्रतिक्रियायें ली हैं, और हमें उम्मीद से बैहतर परिणाम मिला। इसलिए हम बड़े स्तर पर किसानों को लाभान्वित करने के लिए इसे लांच किया है। भूमि कायाकल्प अभियान के तहत कंपनी ने देश भर के किसानों के लिये जागरूकता अभियान शुरू किया है, जिसके तहत कंपनी का लक्ष्य अगले 2 साल में 10 लाख से अधिक किसानों तक पहुंचना है। श्री संजय सिंह, एजीएम (मार्केट डेवलपमेंट) ने कायाकल्प की तकनीकी को विस्तारपूर्वक बताया।

www.krishakjagat.org
Share