मध्यप्रदेश में प्याज किसानों के लिए धानुका का ‘ वनकिल ’

Share

8 जनवरी 2022, इंदौर । मध्यप्रदेश में प्याज किसानों के लिए धानुका का ‘ वनकिल ’ प्याज में उगने वाले खरपतवारों का एक बार में ही अच्छी तरह से सफाया करने के लिये धानुका एग्रीटेक लि. ने खरपतवारनाशक वनकिल बाजार में प्रस्तुत किया है। धानुका के उप महाप्रबंधक श्री अखिल शर्मा ने उज्जैन, रतलाम, शाजापुर, पचोर और इंदौर में, उप महाप्रबंधक श्री संजय कुमार सिंह ने सीहोर और आष्टा में, उप महाप्रबंधक श्री जितेन्द्र कुमार सिंह ने सागर और सतना में धानुका वनकिल को प्रस्तुत किया। इस अवसर पर कम्पनी के चीफ मैनेजर मार्केटिंग श्री सुबोध कुमार गुप्ता, वस्तु विषय विशेषज्ञ मयूर अमेटा और ब्राडिंग अधिकारी श्री पुष्यवर्धन सिंह विशेष रूप से उपस्थित रहे। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में धानुका के स्टेट हेड श्री चेतन सरावगी और स्थानीय वितरक एवं विक्रेता उपस्थित रहे।

श्री मयूर अमेटा ने बताया कि प्याज में उगने वाले संकरी पत्ती और चौड़ी पत्ती वाले खरपतवारों से प्याज उत्पादक किसान लंबे समय से समस्याग्रस्त हैं। इस समस्या से मुक्ति देने के लिये धानुका का वनकिल अंकुरण पूर्व उपयोग में लाया जाने वाला दैहिक खरपतवारनाशक है। प्याज में संकरी पत्ती और चौड़ी पत्ती के खरपतवारों का अच्छी तरह से सफाया करता है। छिडक़ाव के 1 से 2 घण्टे बाद वर्षा होने पर भी वनकिल का खरपतवारों पर प्रभावी असर बना रहता है।

क्रेबग्रास पर प्रभावी

श्री अमेटा ने बताया कि धानुका वनकिल प्याज फसल के सबसे मुश्किल खरपतवार क्रेबग्रास पर प्रभावी नियंत्रण करता है। इसकी एक लीटर मात्रा को 375 लीटर पानी में अच्छी तरह से मिलाकर प्रति हेक्टेयर की दर से उपयोग करें। श्री अमेटा ने बताया कि वनकिल के उपयोग से प्रदेश के प्याज उत्पादक किसानों को खरपतवार मुक्त प्याज की फसल का एक नया अनुभव होगा। ब्राडिंग अधिकारी श्री पुष्यवर्धन सिंह ने कहा कि धानुका का ध्येय कृषि के माध्यम से भारत को बदलना है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *