कृषि यंत्रीकरण में प्रदेश के पहले कौशल विकास केन्द्र का लोकार्पण

भोपाल। मध्यप्रदेश में कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय द्वारा कृषि यंत्रीकरण क्षेत्र में कौशल विकास केन्द्र गत 7 अक्टूबर 2017 को जबलपुर में प्रारंभ किया गया है। केन्द्र के भवन का लोकार्पण श्री गौरीशंकर बिसेन, कृषि मंत्री म.प्र. द्वारा किया गया है। उक्त केन्द्र कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय द्वारा निर्मित किया गया है तथा प्रशिक्षण हेतु महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा कंपनी से अनुबंध किया गया है। उल्लेखनीय है कि इस तरह की पहल पूरे देश में पहली बार हुई है जब प्रतिष्ठित ट्रैक्टर कंपनियां शासन से संयुक्त भागीदारी करके कौशल विकास कार्यक्रम संचालित करेगी। कार्यक्रम में श्री राजीव चौधरी, संचालक कृषि अभियांत्रिकी एवं महिन्द्रा ट्रैक्टर्स के सेल्स हेड श्री साहा उपस्थित थे। श्री चौधरी ने आगे बताया कि प्रदेश में कृषि यंत्रीकरण क्षेत्र के 6 कौशल विकास केन्द्र प्रारंभ किये जा रहे हैं। प्रशिक्षण देने हेतु महिन्द्रा ट्रैक्टर्स के अलावा जॉनडियर एवं इन्टरनेशनल ट्रैक्टर्स से भी अनुबंध किया गया है। जबलपुर के अलावा शीघ्र ही सतना, सागर, ग्वालियर एवं भोपाल में इस तरह के केन्द्र प्रारंभ होंगे। इन्दौर का केन्द्र भी शीघ्र निर्मित किया जायेगा। महिन्द्रा द्वारा संचालित यह केन्द्र पूर्णत: आवासीय है तथा 10वीं कक्षा उत्तीर्ण ग्रामीण युवकों को 45 दिवसीय प्रशिक्षण ट्रैक्टर मरम्मत एवं रखरखाव से संबंधित दिया जा रहा है। प्रशिक्षण उपरांत युवाओं को रोजगार के अनेक अवसर उपलब्ध होंगे।
ट्रैक्टर उद्योग में शिखर पर स्थापित महिन्द्रा एंड महिन्द्रा द्वारा अपनी नवोन्मेषी परियोजना के तहत ग्रामीण बेरोजगारों का कौशल विकास कर आय वृद्धि के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे।

 

www.krishakjagat.org
Share